S M L

हिमाचल चुनाव 2017: क्या बैजनाथ में बीजेपी फिर होगी पस्त या होगा चमत्कार?

बीजेपी के उम्मीदवार मुल्क राज पिछली बार भी इस सीट पर खड़े हुए थे लेकिन किशोरी लाल से 5000 से ज्यादा वोटों से हार गए थे

FP Staff Updated On: Nov 08, 2017 11:14 PM IST

0
हिमाचल चुनाव 2017: क्या बैजनाथ में बीजेपी फिर होगी पस्त या होगा चमत्कार?

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के लिए काफी मजबूत राज्य है. कांग्रेस पिछले काफी से यहां सत्ता में तो है ही. विभिन्न विधानसभा सीटों पर भी इसने अधिकतम चुनावों में जीत हासिल की है. एक मायने में हिमाचल कांग्रेस का गढ़ है. और एक बार फिर कांग्रेस के लिए अपने गढ़ को बचाए रखने की परीक्षा की घड़ी आ गई है.

सूबे में 9 नवंबर को 68 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होने हैं. कांग्रेस और बीजेपी के बीच कड़ा मुकाबला है. सूबे की बैजनाथ विधानसभा सीट पर कांग्रेस को अबतक भरोसे का वोट मिलता रहा है. 1967 से अब तक हुए 12 विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने 9 बार जीत हासिल की है. वहीं बीजेपी को ये कुर्सी बस एक बार 1990 में हासिल हुई है. 1990 में बीजेपी के उम्मीदवार दुलो राम ने कांग्रेस के संत राम को लगभग 4000 वोटों के अंतर से हराया था.

बैजनाथ में फिलहाल कांग्रेस के सिटिंग एमएलए 70 साल के किशोरी लाल है और इन चुनावों में भी वही कांग्रेस का चेहरा बने हुए हैं. बीजेपी ने यहां से 48 साल के मुल्कराज प्रेमी को उतारा है. बीएसपी ने यहां भी वोट काटने की तैयारी कर ली है. बीएसपी ने 42 साल के रमेश चंद को अपना उम्मीदवार चुना है. वहीं यहां से बस एक निर्दलीय नेता 41 साल के बीर सिंह ताल ठोंक रहे हैं.

इन नेताओं में से किसी पर भी आपराधिक केस नहीं चल रहा

बैजनाथ यहां के प्रसिद्ध बैजनाथ महादेव मंदिर की वजह से जाना जाता है. साथ ही यहां पैराग्लाइडिंग के लिए भी टूरिस्ट आते हैं.

एमएलए किशोरी लाल का कहना है कि उनके कार्यकाल में सड़क निर्माण पर लगभग 1 अरब रुपए खर्च हुए हैं और काफी विकास हुआ है. प्लस टू स्कूल खोले गए हैं, डिग्री कॉलेज भी खुला है. उनका कहना है कि वो इस बार पिछली बार से ज्यादा वोटों के मार्जिन के साथ जीतेंगे.

बीजेपी के उम्मीदवार मुल्क राज पिछली बार भी इस सीट पर खड़े हुए थे लेकिन किशोरी लाल से 5000 से ज्यादा वोटों से हार गए थे. इस बार फिर वो जीत की उम्मीद करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi