S M L

कई राजनैतिक घटनाओं का गवाह रहा है शिमला का रिज मैदान

महत्वपूर्ण राजनेताओं ने इस मैदान में बने स्थाई मंडप से कई बार प्रदेशवासियों को संबोधित किया है, जिनमें स्वर्गीय श्रीमती इंदिरागांधी प्रमुख हैं

Matul Saxena Updated On: Dec 27, 2017 09:11 AM IST

0
कई राजनैतिक घटनाओं का गवाह रहा है शिमला का रिज मैदान

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला का रिज मैदान, जहां राज्य की तेहरवीं विधानसभा के लिए नामित मुख्यमंत्री शपथ ग्रहण करेंगे,कई राजनैतिक घटनाओं का साक्षी रहा है. इसी वजह से राजधानी के इस मैदान को महत्वपूर्ण आयोजनों के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

बहुत कम लोग जानते इस मैदान के नीचे 10,0000 गैलन क्षमता के पेय-जल टैंक अंग्रेजों द्वारा वर्ष 1880 में निर्मित किए गए थे जहां से आज भी शिमला शहर को पेय-जल की आपूर्ति की जाती है. इन टैंकों का निर्माण सीमेंट से नहीं चूना पत्थर से किया गया. प्रदेश सरकार के सभी महत्वपूर्ण आयोजन इसी स्थल पर होते हैं.

इंदिरा गांधी कर चुकी हैं संबोधित

महत्वपूर्ण राजनेताओं ने यहां बने स्थाई मंडप से कई बार प्रदेशवासियों को संबोधित किया है, जिनमें स्वर्गीय श्रीमती इंदिरागांधी प्रमुख हैं. उन्होंने 25 जनवरी, 1971 को इसी रिज मैदान से हिमाचल प्रदेश को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की घोषणा की थी.

साल 1977 में तत्कालीन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री राजनारायण को रिज पर जनसभा करने की इजाजत न देने के कारण राजनारायण ने तत्कालीन मुख्यमंत्री शान्ता कुमार के खिलाफ बगावत की मुहिम शुरू की थी, जिसके परिणामस्वरूप शान्ता कुमार को मुख्यमंत्री का पद त्यागना पड़ा था.

गर्मियों-सर्दियों में सदाबहार रिज मैदान

इस रिज मैदान पर आयोजित जनसभा का सबसे बड़ा लाभ यह है कि संबोधन करने वाले विशिष्ट व्यक्ति की आवाज काफी दूर तक सुनी जा सकती है. गर्मियों में इसी रिज मैदान में ग्रीष्मोत्सव का आयोजन स्थानीय प्रशासन द्वारा किया जाता है. सर्दियों में इस मैदान में शिमला आने वाले पर्यटक धूप का आनंद लेते हैं और बर्फबारी के दौरान बर्फ से खेलने का आनन्द भी यह मैदान प्रदान करता है.

शपथ-ग्रहण के इस सार्वजनिक समारोह में नामित मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने सभी प्रदेशवासियों को मीडिया के माध्यम से आमंत्रित किया है. शपथ-ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के अतिरिक्त 12 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के भी शामिल होने की संभावना है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi