S M L

Haryana Municipal Election Results 2018: पांचों निगम में बीजेपी के मेयर प्रत्याशी जीते

विधानसभा का सेमीफाइनल माने जा रहे इन निकाय चुनाव के नतीजों पर सभी दलों की नजरें टिकी हुई हैं

Updated On: Dec 19, 2018 04:53 PM IST

FP Staff

0
Haryana Municipal Election Results 2018: पांचों निगम में बीजेपी के मेयर प्रत्याशी जीते

हरियाणा में हुए निगम चुनाव के बाद 5 जिलों की जनता ने अपना फैसला ईवीएम में बंद कर दिया है. बुधवार सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू हो गई है और प्रत्याशियों के भविष्य का फैसला आना शुरू हो गया है. विधानसभा का सेमीफाइनल माने जा रहे इन निकाय चुनाव के नतीजों पर सभी दलों की नजरें टिकी हुई हैं. चाहे किसी ने सिंबल पर चुनाव लड़ा हो या ना लड़ा हो लेकिन नतीजें सभी को भविष्य की एक तस्वीर जरूर दिखा देंगे.

Live Updates-

- राज्य में हुए नगर निगम के चुनाव में बीजेपी को बड़ी कामयाबी मिली है. पांचों निगम में बीजेपी के मेयर प्रत्याशी जीत गए हैं.

नतीजों पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर का बयान आया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी निगम चुनाव सिंबल पर जीती है. अगर कांग्रेस सिंबल पर लड़ती तो पांचों मेयर कांग्रेस के होते. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ना हार में ना जीत में है.

- पांचों नगर निगम से बीजेपी के लिए अच्छी खबर आ रही है. पार्टी के सभी मेयर उम्मीदवार बढ़त बनाएं हुए हैं. 

-रोहतक नगर निगम मेयर पद के चुनाव में बीजेपी के मनमोहन गोयल करीब 3549 वोट से आगे चल रहे हैं. दूसरे नंबर पर कांग्रेस समर्थित सीताराम सचदेवा हैं तो तीसरे नंबर पर आईएनएलडी के संचित नांदल हैं.

-पानीपत में बीजेपी के 4 पार्षद जीते. रोहतक में भी बीजेपी को बढ़त

यमुनानगर में कांग्रेस ने वार्ड नंबर एक में खोला खाता. कांग्रेस समर्थित संजय राणा ने की जीत हासिल.

वहीं पानीपत के वार्ड नंबर 1 से बीजेपी के लिए अच्छी खबर आई है. बीजेपी की उम्मीदवार अनीता रानी 1541 वोटों से जीत गई हैं. माना जा रहा है कि हरियाणा में हुए इन पांच नगर निगमों और दो नगरपालिकाओं के चुनाव नतीजों का राज्य की राजनीति पर काफी असर पड़ेगा. इससे राज्‍य में भविष्‍य की दिशा तय होगी. एक बात तो तय है कि जब तक नतीजे नहीं आ जाते तब तक उम्मीदवारों के साथ-साथ विभिन्न दलों के दिग्गज नेताओं की सांसें थमी रहेंगी.

बीजेपी के लिए तो यह प्रतिष्ठा का सवाल है. वहीं इनेलो-बीएसपी के गठबंध के लिए भी ये चुनाव इज्जत का सवाल बना है. वहीं दूसरे राजनीतिक दलों ने भले ही सिंबल पर चुनाव ना लड़ा हो लेकिन फिर भी चुनाव को गंभीरता से लिया है. तीन राज्यों के चुनाव नतीजों से उत्साहित कांग्रेस नेताओं का पांचों नगर निगमों के चुनाव में पूरा दखल रहा है.

(साभार न्यूज-18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi