S M L

गुजरात में 26% MLA पर आपराधिक मामला, लिस्ट में कांग्रेस नंबर 1

एडीआर की जारी रिपोर्ट के मुताबिक 182 विजयी प्रत्याशियों में 47 ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज होने की जानकारी सार्वजनिक की है. कांग्रेस के विजयी 77 में 25 विधायकों पर क्रिमिनल केस हैं

FP Staff Updated On: Dec 20, 2017 12:18 PM IST

0
गुजरात में 26% MLA पर आपराधिक मामला, लिस्ट में कांग्रेस नंबर 1

गुजरात विधानसभा चुनाव में जीतकर आए 182 सदस्यों में 47 पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. मंगलवार को गुजरात इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) ने विधायकों के चुनावी हलफनामों का अध्ययन कर इस बात की जानकारी दी है.

इस रिपोर्ट के मुताबिक, 182 विजयी प्रत्याशियों में 47 यानी 26 फीसदी ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज होने की जानकारी सार्वजनिक की है. इससे पहले साल 2012 के विधानसभा चुनाव में आपराधिक रिकॉर्ड वाले 57 यानी 31 फीसदी विधायक चुने गए थे.

नए चुने गए इन सदस्यों में से 33 ने चुनावी हलफनामे में अपने खिलाफ संगीन आपराधिक मामले दर्ज होने की बात स्वीकार की है, जबकि 2012 में यह संख्या 24 थी.

वहीं पार्टियों के आधार पर देखें तो इस सूची में कांग्रेस सबसे ऊपर है, उसके कुल 77 में 25 विधायकों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. जबकि बीजेपी के विजयी 99 उम्मीदवारों में से 18 के खिलाफर आपराधिक मामले हैं. भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) के 2 में एक, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के एक और 3 निर्दलीयों में दो पर क्रिमिनल केस दर्ज हैं.

इनमें भी कांग्रेस के 17, बीजेपी के 12, बीटीपी के 1 और 2 निर्दलीय विधायकों पर संगीन अपराध के मामले दर्ज हैं. कांग्रेस के विजयी एमएलए भावेशभाई बाबूभाई और बीटीपी के अध्यक्ष महेशभाई छोटूभाई वसावा हत्या के मामले में आरोपी हैं.

इस बार चुने गए 182 में 141 यानी 77 फीसदी एमएलए करोड़पति हैं. इससे पहले वर्ष 2012 के चुनावों में यह संख्या 134 यानी 74 फीसदी थी.

पार्टियों के हिसाब से देखें तो बीजेपी 84 करोड़पति विधायकों के साथ टॉप पर है. इसके बाद कांग्रेस का नंबर आता है, उसके 54 विजयी सदस्य करोड़पति हैं, बीटीपी के 2 और एनसीपी के 1 एमएलए ने अपनी संपत्ति एक करोड़ रुपए से अधिक बताई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi