S M L

गुजरात चुनाव 2017: प्यू सर्वे को भुनाने की कोशिश में बीजेपी

नोटबंदी और जीएसटी के बाद अर्थव्यवस्था में गिरावट को लेकर राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर हमलावर हैं. ऐसे वक्त में इस सर्वे ने बीजेपी को अपना बचाव कर पलटवार का मौका दे दिया है

Amitesh Amitesh Updated On: Nov 17, 2017 09:56 AM IST

0
गुजरात चुनाव 2017: प्यू सर्वे को भुनाने की कोशिश में बीजेपी

गुजरात चुनाव के बीच बीजेपी के लिए एक ऐसी खबर आई है, जो उसकी रणनीति को नई धार दे सकती है. बीजेपी मोदी के नाम पर गुजरात चुनाव में इस बार भी अपनी नैया पार लगाने में लगी है. ऐसी सूरत में मोदी को मिलने वाली तारीफ और उनकी लोकप्रियता को लेकर आनेवाला कोई भी सकारात्मक सर्वे चुनावी मौसम में बीजेपी के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है.

एक अमेरिकी थिंक टैंक के सर्वे के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय राजनीति में अब भी सबसे लोकप्रिय नेता हैं. यह सर्वे थिंक टैंक ‘प्यू रिसर्च सेंटर’ की तरफ से किया गया है. इस सर्वे में भारत में करीब 2,464 लोगों को शामिल किया गया था.

प्यू रिसर्च सेंटर का सर्वे इसी साल 21 फरवरी से 10 मार्च के बीच कराया गया था. न्यूज एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, इस सर्वे में 88 प्रतिशत के आंकड़े के साथ पीएम मोदी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी (58 प्रतिशत) से 30 और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (57 प्रतिशत) से 31 अंक आगे हैं. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (39 प्रतिशत) पर 49 अंकों की बढ़त मिली हुई है.

गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी लगातार चुनाव-प्रचार में लगे हैं. राहुल की सभाओं में हो रही भीड़ और कांग्रेस की तरफ से बीजेपी को घेरने की कोशिश से बीजेपी के रणनीतिकार काफी सजग हैं. बीजेपी नेताओं को भी लग रहा है कि गुजरात में इस बार का चुनाव पहले की तुलना में थोड़ा कठिन है. ऐसे में बीजेपी को एक बार फिर से भरोसा और आत्मविश्वास मोदी को लेकर ही है. अब इस सर्वे में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की तुलना में मोदी की लोकप्रियता का ग्राफ काफी आगे होने से बीजेपी को फिर से मोदी के करिश्मे से उम्मीद बढ़ गई है.

ये भी पढ़ें: राम मंदिर विवाद: श्री श्री रविशंकर विवाद सुलझाने खुद गए हैं या भेजे गए हैं?

अमेरिकी थिंक टैंक के इस सर्वे में भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर भी काफी सकारात्मक संदेश दिया गया है. प्यू के मुताबिक, जनता की तरफ से मोदी का सकारात्मक आकलन करना भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर बढ़ती संतुष्टि से प्रेरित है. सर्वे में हर दस में से आठ लोगों ने भारतीय अर्थव्यवस्था को पहले से बेहतर बताया है.

bjp gujrat

अहमदाबाद में पीएम नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान की तस्वीर

अर्थव्यवस्था पर घिरी बीजेपी के लिए संजीवनी है प्यू सर्वे की रिपोर्ट

एक तरफ जब बीजेपी सरकार अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर विरोधियों के निशाने पर है. नोटबंदी और जीएसटी के बाद अर्थव्यवस्था में गिरावट को लेकर राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर हमलावर हैं. ऐसे वक्त में इस सर्वे ने बीजेपी को अपना बचाव कर पलटवार का मौका दे दिया है. हांलाकि इस सर्वे का समय जीएसटी लागू होने से पहले का है, लेकिन, नोटबंदी के बाद कराए गए इस सर्वे में अधिकतर भारतीयों की मोदी को लेकर सकारात्मक नजरिया ही दिखता है.

सर्वे सामने आने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि ‘मोदी जी की लोकप्रियता धर्म, जाति, क्षेत्र और सीमा से उपर है. वे हिंदुस्तान के जन-मन में हैं. प्यू रिसर्च सेंटर की रिपोर्ट इसी तथ्य को प्रमाणित करती है.’

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का इस सर्वे की रिपोर्ट के सामने आने के बाद दिया गया वक्तव्य इसी कोशिश को दिखाता है, जिसमें बीजेपी सीधे मोदी को आगे कर गुजरात में उतरने की तैयारी में है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी खुद गुजरात से हैं. लोकसभा चुनाव के बाद देश के कई राज्यों में बीजेपी की जीत के सूत्रधार उन्हें ही माना जाता रहा है.

शाह के लिए गृह राज्य गुजरात में भी सबकुछ दांव पर है. उनकी रणनीति की अग्नि परीक्षा है. फिर भी उन्हें इस बात का अंदाजा है कि गुजरात और गुजराती अस्मिता की जब बात होगी तो सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ही चेहरे को आगे करना होगा. लिहाजा सर्वे को गुजरात में भी भुनाने की कोशिश से बीजेपी पीछे नहीं हटने वाली.

ये भी पढ़ें: गुजरात चुनाव 2017: 'ब्रांड मोदी' को बार-बार भुनाने की रणनीति में जोखिम भी है

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi