S M L

रोहित वेमुला को इस सरकार ने मारा है: राहुल गांधी

शुक्रवार को राहुल दलित स्वाभिमान सभा को संबोधित कर रहे थे. यहां उन्होंने हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या का मामला उठा लिया

FP Staff Updated On: Nov 24, 2017 06:03 PM IST

0
रोहित वेमुला को इस सरकार ने मारा है: राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष  राहुल गांधी फिर से दौरों के चलते गुजरात पहुंचे हुए हैं. शुक्रवार को राहुल अहमदाबाद में थे. वो यहां दलित स्वाभिमान सभा को संबोधित कर रहे थे. यहां उन्होंने हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या का मामला उठा लिया. उन्होंने कहा कि रोहित ने आत्महत्या नहीं की, इस सरकार ने उसकी हत्या की है.

यहां उन्होंने लोगों से बातचीत भी की. राहुल का ये आरोप बहुत गंभीर है. चुनावों को लेकर एक-दूसरे से भिड़ी बीजेपी-कांग्रेस में इस पर क्या भिड़ंत होती है, वो आने वाले वक्त में दिख जाएगा.

इसके पहले राहुल गांधी पोरबंदर गए थे.  यहां उन्होंने राज्य के मछुआरा समुदाय के लोगों से मुलाकात की और वादा किया कि अगर उनकी पार्टी केंद्र में सत्ता में आती है तो अलग से मत्स्य मंत्रालय बनाया जाएगा. राहुल ने मछुआरों को नौका के लिए डीजल की खरीद पर मिलने वाली सब्सिडी को समाप्त करने के लिए भाजपा सरकार की आलोचना की.

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि गुजरात के मछुआरों को प्रदूषण के कारण अब मछली पकड़ने के लिए गहरे समुद्र में जाना पड़ता है.ये प्रदूषण 10-15 उद्योगपतियों ने फैलाया है जो कि ‘मोदी जी’ के दोस्त हैं.

चुनाव प्रचार के लिए दो दिन की गुजरात यात्रा पर आए राहुल ने दौरे के पहले दिन मछुआरा समुदाय को संबोधित करते हुए विश्वास जताया कि कांग्रेस राज्य में जीत हासिल करेगी, जहां वह पिछले 22 वर्ष से सत्ता से बाहर है. राहुल ने कहा, ‘मछुआरों का काम किसानों की ही भांति होता है. कुछ समय पहले आप लोगों ने मांग की थी कि कृषि क्षेत्र के लिए मंत्रालय है तो मछुआरों के लिए क्यों नहीं? मैंआपसे सहमत हूं, और मैं आपसे वादा करता हूं कि केन्द्र में सरकार बनाने के बाद कांग्रेस इसका गठन करेगी.’ उन्होंने दावा किया कि नरेंद्र मोदी के मुख्यमंत्री रहते भाजपा नीत राज्य सरकार ने नैनो कार परियोजना के लिए टाटा मोटर्स को 33,000 करोड़ रुपए दिए थे.

राहुल ने कहा, ‘जब कांग्रेस सत्ता में थी मछुआरों को डीजल खरीद में 25 प्रतिशत सब्सिडी मिलती थी. वह सब्सिडी जो महज 300 करोड़ रुपए सालाना थी, को यहां भाजपा सरकार ने समाप्त कर दिया. ये किस तरह का जादू है? वे 33,000 करोड़ रुपए नैनो फैक्ट्री के लिए दे सकते हैं लेकिन आपको 300 करोड़ रुपए नहीं दे सकते.'

उन्होंने आरोप लगाया, ‘मुझे पता चला है कि आपको मछलियां पकड़ने के लिए गहरे समुद्र में उतरना पड़ता है. क्यों? प्रदूषण के कारण. लेकिन ये फैलाया किसने? यकीनन मछुआरों ने नहीं. इसे 10-15 उद्योगपतियों ने फैलाया है जो कि मोदी जी के दोस्त हैं. उन्होंने आपके सारे पैसे ले कर उन 10-15 लोगों को दे दिए हैं.'

उन्होंने कहा कि मछुआरों के लिए कुछ भी ठोस करने की बजाए मोदी ने सारे बंदरगाह ‘अपने कुछ उद्योगपति दोस्तों’ को दे दिए हैं.

राहुल ने मोदी के रोडियो कार्यक्रम मन की बात का भी मखौल उड़ाया और कहा कि गुजरात में सत्ता में आने के बाद कांग्रेस सरकार के दरवाजे खोल दिए जाएंगे.

उन्होंने कहा, ‘मुझे विश्वास है कि कांग्रेस ये चुनाव जीतेगी और उसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय और विधानसभा के दरवाजे आपके लिए खोल दिए जाएंगे ताकि आप हमें अपने मन की बात बता सकें. अभी तक वो दरवाजे केवल अमीरों के लिए खुले थे और केवल उन्हीं की बात सुनी जाती थी. आपकी आवाज कभी सरकार तक नहीं पहुंची.’ गुजरात में नौ और 14 दिसंबर में दो चरणों में मतदान होना है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi