S M L

गुजरात चुनाव: इन सीटों पर मुस्लिम मतदाता तय करते हैं जीत

गुजरात की 34 सीटों पर 15 प्रतिशत से भी ज्यादा मुस्लिम वोटर हैं. इसमें से 2012 में बीजेपी ने 21 सीटें जीत ली थीं

Updated On: Dec 03, 2017 09:54 PM IST

FP Staff

0
गुजरात चुनाव: इन सीटों पर मुस्लिम मतदाता तय करते हैं जीत

गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. इन दिनों इंटरनेट पर एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें नरेंद्र मोदी से दिग्विजय सिंह पूछते हैं कि आपने इस चुनाव में कितने मुसलमानों को टिकट दिया है. वीडियो पुराना है और तब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे. इस पर जवाब तो सटीक नहीं मिलता. आज दिग्विजय के सवालों का जवाब ढूंढते हैं. गुजरात में भी ऐसी सीटें हैं जहां मुस्लिम वोटरों की गिनती बहुत ज्यादा है.

आज उन्हीं दो मुस्लिम विधायकों की बात करते हैं जो इस समय गुजरता विधानसभा के सदस्य हैं. इन दोनों का नाम है गयासुद्दीन शेख और मोहम्मद जावेद पीरजदा. यह दोनों कांग्रेस के टिकट पर 2012 में चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे थे.

गयासुद्दीन शेख अहदाबाद के दरियापुर से चुनाव जीते थे जबकि पीरजदा राजकोट के वानकानेर सीट से चुनाव जीते थे. एक बार फिर से यह दोनों कांग्रेस की टिकट पर चुनावी मैदान में हैं. इस बार के विधानसभा चुनाव कांग्रेस की तरफ से कुल 6 मुस्लिम उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं.

इंडिया टुडे के मुताबिक गुजरात में कुल 9-10 प्रतिशत मुस्लिम वोट है. अब तक गुजरात विधानसभा के लिए अधिकतम 7 मुस्लिम उम्मीदवार जीते हैं.

आबादी के अनुसाल, मुस्लिम विधानसभा चुनाव परिणामों को प्रभावित कर सकते हैं, 2012 में सीमांकन के बाद, 36 सीटें ऐसी है, जहां वे पंजीकृत मतदाताओं में से 13-14% से भी ज्यादा हैं. गुजरात के 34 विधानसभा क्षेत्रों में मुस्लिम मतदाताओं में जनसंख्या का 15 प्रतिशत हिस्सा है.

इंडिया टुडे के मुताबिक गुजरात में 20 विधानसभा सीट ऐसी हैं जहां मुस्लिम वोट बहुत ज्यादा है. इन 20 में से 4 अहमदाबाद में हैं, जबकि 3 भरूच और कच्छ जिले में हैं.

गुजरात की 34 सीटों पर 15 प्रतिशत से भी ज्यादा मुस्लिम वोटर हैं. इसमें से 2012 में बीजेपी ने 21 सीटें जीत ली थीं. वहीं इन सीटों में कांग्रेस ने 8 सीटों पर जीत हासिल की थी. इन सीटों पर कांग्रेस ने 2012 में 7 मुस्लिम लोगों को टिकट दिया था, जबकि बीजेपी ने एक भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं बनाया था.

इन सीटों पर कांग्रेस के सिर्फ दो ही उम्मीदवारों को जीत हासिल हुई थी. इसमें पहला नाम गयासुद्दीन का है दूसरा पीरजदा का. यह जीत बहुत बड़ी नहीं थी. गयासुद्दीन 2,500 वोटों को अंतर से जीती थी और पीरजदा 7,000 वोटों के अंतर से.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi