S M L

गुजरातः टिकट बंटवारे के बाद एक परिवार के झगड़े में उलझी बीजेपी

पांचवीं लिस्ट में पंचमहाल की कलोल बेठक सीट के लिए भी उम्मीदवार के नाम की घोषणा हुई है, इसी को लेकर एक परिवार में खींचतान जारी है

Updated On: Nov 25, 2017 09:37 PM IST

FP Staff

0
गुजरातः टिकट बंटवारे के बाद एक परिवार के झगड़े में उलझी बीजेपी

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए टिकट बंटवारे का दौर जारी है. टिकट बंटने के साथ ही एक खेमे का रूठना और दूसरे में जश्न का महौल भी देखने को मिल रहा है, लेकिन यहां मामला थोड़ा अलग है. यहां खेमेबाजी और गुटबाजी से परे परिवार में ही मामला अटकते दिख रहा है. दरअसल, बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों की पांचवीं लिस्ट जारी कर दी है. इस लिस्ट में पंचमहाल की कलोल बेठक सीट के लिए भी उम्मीदवार के नाम की घोषणा हुई है. इसी को लेकर एक परिवार में खींचतान जारी है.गुज

पंचमहाल के सांसद प्रभातसिंह चौहाण की बहू सुमन चौहाण को यहां से बीजेपी का टिकट मिला था. वह प्रभातसिंह की पहली बीवी के बेटे की पत्नी हैं. खास बात यह है कि सुमन को टिकट मिलने पर प्रभातसिंह की तीसरी पत्नी रंधेश्वरी देवी ने शुक्रवार को फेसबुक पर अपना विरोध जताया. बाद में उसने पोस्ट डिलीट कर दी थी. ईटीवी से बात करते समय रंधेश्वरी देवी ने कहा कि मुझे अब फेसबुक पोस्ट पर पछतावा है. मैं अपनी बहू के लिए ही प्रचार करूंगी. परिवार में कोई विरोध नहीं है.

हालांकि, इसके बाद प्रभातसिंह ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को एक चिट्ठी लिखी है. उन्होंने लिखा है कि मेरी बहू को टिकट ना दी जाए और यहां से उम्मीदवार बदला जाए. चिट्ठी में उन्होंने यह भी लिखा है कि उसका बेटा एक बुटलेगर है. वह शराब का धंधा करता है. सुमन और प्रवीण जेल भी जा चुके हैं. उन्‍होंने लिखा कि कालोल और गोधरा विधान सभा की सीट इस हालात में मैं जीता नहीं पाऊंगा. अगर बीजेपी हारती है तो मेरी जिम्मेदारी नहीं होगी.

उन्होंने अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए और बीजेपी से नाराजगी जाहिर करते हुए पत्र में यह भी लिखा है कि मेरे बीजेपी में आने के बाद नगर निगम से लेकर लोकसभा तक बीजेपी जीती है. पार्टी में सीनियर होने के बावजूद मुझे संगठन या किसी और जगह पर स्थान नहीं दिया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi