S M L

गुजरात चुनाव: जेडीयू के लिए प्रचार नहीं करेंगे नीतीश कुमार

बिहार में बीजेपी के साथ सरकार चला रही और केंद्र में सत्तारुढ़ एनडीए का हिस्सा जेडीयू ने गुजरात विधानसभा चुनावों में 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया है

Updated On: Nov 25, 2017 06:14 PM IST

FP Staff

0
गुजरात चुनाव: जेडीयू के लिए प्रचार नहीं करेंगे नीतीश कुमार

जेडीयू के अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार गुजरात विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के लिए प्रचार नहीं करेंगे. जेडीयू के एक नेता ने शनिवार को कहा कि पार्टी ने अपने 20 स्टार प्रचारकों को गुजरात भेजने का निर्णय लिया है.

बिहार में बीजेपी के साथ सरकार चला रही और केंद्र में सत्तारुढ़ एनडीए का हिस्सा जेडीयू ने गुजरात विधानसभा चुनावों में 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया है. वैसे नीतीश कुमार कई मौकों पर यह कह चुके हैं कि गुजरात में बीजेपी को सत्ता में आने से कोई नहीं रोक सकता लेकिन फिर भी उनकी पार्टी ने वहां चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

जेडीयू के तरफ से राज्यसभा सांसद आर.सी.पी. सिंह, जेडीयू के महासचिव के.सी. त्यागी, बिहार के मंत्री ललन सिंह और पूर्व मंत्री श्याम रजक गुजरात चुनाव के लिए पार्टी के स्टार प्रचारक हैं.

शरद गुट में शामिल हैं जेडीयू के निवर्तमान विधायक

हाल ही में पार्टी महासचिव केसी त्यागी ने कहा था वह गुजरात विधानसभा चुनावों में अपने 50 से ज्यादा उम्मीदवारों को मैदान में उतारेगी. इससे पहले भी जेडीयू गुजरात चुनाव लड़ चुकी है. उस वक्त जेडीयू के टिकट पर छोटूभाई वसावा विधायक भी बन चुके हैं. लेकिन बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद वसावा शरद यादव के गुट में शामिल हो गए. शरद यादव के गुट का इस चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन है. कांग्रेस ने शरद गुट को सिर्फ 2 सीटें दी हैं. इस वजह से कांग्रेस और शरद गुट में अनबन की खबरें भी आ रही हैं.

पार्टी महासचिव केसी त्यागी केसी त्यागी ने अपने बयान में कहा था कि कांग्रेस द्वारा केवल चार पाटीदार समुदाय के लोगों को टिकट दिया गया है जिससे समुदाय में पार्टी के प्रति गुस्सा भरा हुआ है. त्यागी ने दावा करते हुए बोला की राज्य के पार्टी प्रदेश अध्यक्ष से कई पाटीदार नेताओं ने इस मामले को लेकर मुलाकात की है. इतना ही नहीं केसी त्यागी ने यह भी कहा था कि कांग्रेस द्वारा शरद यादव के गुट को भी केवल दो सीटें दी हैं जिसके कारण खेमे के नेताओं में नाराजगी भरी हुई है.

नीतीश कुमार की तारीफ करते हुए केसी त्यागी ने कहा कि नीतीश पहले ऐसे नेता है जिन्होंने पाटीदार समुदाय को आरक्षण देने का समर्थन किया था. गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए मतदान दो चरणों में 9 और 14 दिसंबर को होने हैं और नतीजे 18 को घोषित किए जाएंगे.

(एजेंसियों से इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi