S M L

मनमोहन-राहुल पर राजनाथ का पलटवार, कहा- तेजी से बढ़ रही है भारतीय अर्थव्यवस्था

Updated On: Mar 18, 2018 09:01 PM IST

Bhasha

0
मनमोहन-राहुल पर राजनाथ का पलटवार, कहा- तेजी से बढ़ रही है भारतीय अर्थव्यवस्था

देश की अर्थव्यवस्था की हालत को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के तीखे तंज के बीच केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि दुनिया के सारे अर्थशास्त्री मानने लगे हैं कि हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से आगे बढ़ रही है और आगामी कुछ वर्षों में इसके सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की विकास दर दोहरे अंकों में पहुंच सकती है.

सिंह ने लखनऊ में विभिन्न विकास योजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास के मौके पर कहा, ‘सारे विश्व के अर्थशास्त्री मानने लगे हैं कि भारत की अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से आगे बढ़ रही है. इस वक्त जीडीपी की विकास दर 7.5 फीसदी है. अंतरराष्ट्रीय अर्थशास्त्रियों ने विश्वास व्यक्त किया है कि आगामी कुछ वर्षों में जीडीपी की विकास दर दोहरे अंकों यानी 10 फीसदी तक भी पहुंच सकती है.’

गृह मंत्री का यह बयान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा दिल्ली में पार्टी के महाधिवेशन की गई उस टिप्पणी के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार भारत की अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से बढ़ने के दावे कर रही है, लेकिन सच्चाई यह है कि देश कठिनाई में है.

राहुल ने कहा, ‘देश का युवा पूछ रहा है कि बेरोजगारी की समस्या को कैसे हल किया जाए. देश में कांग्रेस इकलौता ऐसा संगठन है जो इस समस्या को दूर कर सकता है. दूसरा कोई संगठन इस काम को नहीं कर सकता.’

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी कहा था कि मोदी सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है. सिंह ने कहा कि इस समय देश में हमारी सरकार किस तरह काम कर रही है, यह बताने की जरूरत नहीं है. काम अधिक हुआ, कम हुआ, इस पर विवाद हो सकता है लेकिन हमारी सरकार की नीयत और ईमान पर कोई भी सवालिया निशान नहीं लगा सकता.

उन्होंने कहा, ‘चार वर्ष बाद भी हमारे किसी भी मंत्री पर एक पैसे का भी भ्रष्टाचार का आरोप लगाने का कोई दुस्साहस नहीं कर पाया है.’

सिंह ने कहा कि देश में नई रेलवे लाइन बिछाने का काम चार गुना तेजी से चल रहा है. वर्ष 2022 तक सभी रेलगाड़ियों को बिजली से चलाने का लक्ष्य तय किया गया है. इससे लगभग 11 हजार करोड़ रुपए की बचत होगी.

लखनऊ से सांसद सिंह ने बताया कि 1910 करोड़ रुपए की लागत से गोमतीनगर रेलवे टर्मिनल के विश्व स्तरीय स्टेशन के रूप में पुनर्विकास की परियोजना स्वीकृत हो गई है. इसकी निविदा प्रक्रिया पूरी होने के साथ-साथ परियोजना को शिलान्यास भी आज हो गया. इसके अलावा 1800 करोड़ की लागत से उत्तर रेलवे के चारबाग स्टेशन के पुनर्विकास की वृहद परियोजना का बजट स्वीकृत हो चुका है.

उन्होंने बताया कि एनबीसीसी के चेयरमैन ए. के. मित्तल को यह सारा काम कराना है.

मालूम हो कि एनबीसीसी स्मार्ट डेवलपमेंट की तर्ज पर गोमतीनगर और चारबाग रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास करेगा.

कम्पनी के चेयरमैन मित्तल ने बताया कि रेल को यात्रा का पसंदीदा विकल्प बनाने के लिए सरकार के मकसद के तहत रेलवे स्टेशन का विस्तार, आधुनिकीकरण और सौंदर्यीकरण किया जा रहा है. गोमतीनगर और चारबाग रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास के तहत पहले चरण की लागत क्रमशः 374 करोड़ रुपए और 1206 करोड़ रुपए है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi