S M L

आज का आधुनिक भारत गांधी, नेहरू और पटेल जैसे तीन मजबूत स्तंभों पर खड़ा है: सिंघवी

सिंघवी ने कहा मेरे सपनों का भारत ऐसा नहीं जहां सभी को राष्ट्रवाद का दिखावा करना पड़े

Updated On: Sep 29, 2018 12:34 PM IST

Bhasha

0
आज का आधुनिक भारत गांधी, नेहरू और पटेल जैसे तीन मजबूत स्तंभों पर खड़ा है: सिंघवी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने शुक्रवार को कहा कि ऐसा भारत किसी के सपनों का भारत नहीं हो सकता जहां सभी को राष्ट्रवाद का दिखावा करना पड़े.

सिंघवी ने पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन की प्रसिद्ध पंक्ति 'लोकतंत्र में सरकार जनता की, जनता द्वारा और जनता के लिए होती है' का जिक्र करते हुए कहा कि जब तक हम हर भारतीय में जाति, समुदाय और धर्म से परे लोकतंत्र के सह-स्वामित्व की भावना पैदा नहीं करेंगे, एक राष्ट्र के रूप में भारत का विचार जिंदा नहीं रह सकता.

'पीएचडी चैंबर आफ कामर्स' के 113वें सलाना सत्र में 'इंडिया ऑफ माई ड्रीम्स' शीर्षक पर बोल रहे सिंघवी ने कहा, भारत जैसे देश में सपने देखने की हिम्मत करने से बड़ा अपराध सपने नहीं देखना है, क्योंकि वास्तव में सपने देखने के लिए भारत से बेहतर विषय नहीं हो सकता है. और याद रखें, यह केवल सपना ही है जो हमें हमारी क्षमताओं को ऊंचा से और ऊंचा पहुंचा सकता है.

यह संभव है कि आपके रास्ते में आगे रुकावट आ सकती है, निराशावाद आ सकता है, निराशा आपको परेशान कर सकती है, लेकिन यही वह समय है जब टैगोर कहते हैं 'एकला चलो' . यही वह समय है जब इकबाल कहते हैं, 'मैं अकेला चाला था, लॉग मिलते गए, करवा बनता गया'.

सिंघवी ने और भी कई बाते कहीं, जिसे उन्होंने अपने ट्रवीटर हैंडल पर भी शेयर किया है.

सिंघवी ने कहा कि आज का आधुनिक भारत तीन मजबूत स्तंभों पर खड़ा है. ये स्तंभ - गांधी, नेहरू और पटेल हैं.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi