S M L

फिर फोर्टिस ने किया फर्जीवाड़ा, पथरी का इलाज 36 लाख में!

बताया जा रहा है कि अस्पताल ने 42 दिनों तक चले इलाज के लिए उनको 36 लाख रुपए का बिल थमा दिया है. लेकिन इलाज करवाने के बावजूद किसान आज चलने फिरने में असमर्थ है.

FP Staff Updated On: Dec 14, 2017 07:50 PM IST

0
फिर फोर्टिस ने किया फर्जीवाड़ा, पथरी का इलाज 36 लाख में!

फोर्टिस अस्पताल अपने कारनामों के चलते एक बार फिर चर्चा में आ गया है. गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल से एक मामला सामने आया है जिसमें  अस्पताल प्रबंधन ने पथरी का इलाज करवाने आए एक किसान को जमकर लूटा है. बताया जा रहा है कि अस्पताल ने 42 दिनों तक चले इलाज के लिए उनको 36 लाख रुपये का बिल थमा दिया है. लेकिन इलाज करवाने के बावजूद किसान आज चलने फिरने में असमर्थ है.

दौलताबाद के रहने वाले भीम सिंह फोर्टिस अस्पताल में 14 एमएम की पथरी का इलाज करवाने आए थे. उन्हें अप्रैल 2016 में फोर्टिस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. इलाज का पूरा पैसा भी जमा कराने के बावजूद आज वो चलने फिरने में लाचार है.

फोटो : न्यूज 18

फोटो : न्यूज 18

पीड़ित के परिवार ने बताया कि वो पहले पार्क अस्पताल में दाखिल हुए थे लेकिन वहां पर इलाज न होने के बाद उन्हें फोर्टिस अस्पताल में दाखिल करवाया गया था. 30 अप्रैल को उन्हें फोर्टिस अस्पताल ले जाया गया. इस दौरान पेट में गैस की समस्या होने से उनकी बड़ी आंत भी फट गई. इस वजह से उनकी किडनी भी खराब हो गई.

इस प्रक्रिया में उनका पूरा खर्चा 36 लाख 68 हजार रुपये आया. बेटा फौज में है इसलिए सरकारी खर्चें पर इलाज कराने के लिए पार्क अस्पताल पैनल में था, लेकिन फोर्टिस पैनल में नहीं था. ऐसे में बेटे को अपने खर्चे से ही इलाज करवाना पड़ा. डॉक्टर्स की लापरवाही से भीमसिंह के दोनों ही पैरों में पैरालिसिस हो गया है.

वहीं पीड़ित किसान के गांव में रहने वाले लोगों ने सीएमओ को फोर्टिस अस्पताल के खिलाफ शिकायत दी हैं. डेंगू से सात साल की बच्ची की मौत के मामले के बाद फोर्टिस पीड़ित शिकायतकर्ता अब सामने आने लगे हैं.

इससे पहले सात साल की आद्या भी डेंगू  के चलते द्वारका के सेक्टर 44 स्थित फोर्टिस अस्पताल में भर्ती हुई थी.जिसके बाद 14 सितंबर को देर रात उसकी मौत हो गई और अस्पताल ने उसके परिवार को 15.76 लाख का बिल थमा दिया था.

(न्यूज़ 18 से साभार)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi