Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

लालू के बेटे पर मिट्टी घोटाले का आरोप क्यों लगा ?

सुशील मोदी ने कहा, लालू ने आपने मॉल की मिट्टी को बिना टेंडर के अपने बेटे के विभाग को बेचा

Bhasha Updated On: Apr 05, 2017 05:36 PM IST

0
लालू के बेटे पर मिट्टी घोटाले का आरोप क्यों लगा ?

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटों पर मिट्टी घोटाले का आरोप लगाने वाले बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि वे मानहानि के मुकदमे की धमकी से डरने वाले नहीं हैं और अपने बयान पर कायम हैं. सुशील मोदी ने कहा कि लालू ने आपने मॉल की मिट्टी को बिना टेंडर के अपने बेटे के विभाग को 90 लाख रुपए में बेच दिया, जो राज्य सरकार में मंत्री है. यह तो आम के आम, गुठली के दाम को चरितार्थ करती है.

उन्होंने कहा कि जब लालू मिट्टी घोटाले की जांच के लिए तैयार हैं तब फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार देर क्यों कर रहे हैं? उन्होंने कहा कि मानहानि के मुकदमे की धमकी से डरने वाला नहीं हूं. आधा दर्जन मुकदमे लड़ रहा हूं. मैं अपने बयान पर कायम हूं. भाजपा नेता ने दावा किया कि डिलाइट मार्केटिंग कंपनी प्राइवेट लिमिटेड में तेज प्रताप यादव, तेजस्वी यादव और चंदा यादव को 20 जून 2014 को निदेशक बनाया गया.

इस कंपनी को 2 एकड़ जमीन हस्तांतरित की गई. इसी जमीन पर बिहार में एक बड़ा शापिंग मॉल बन रहा है जिसका निर्माण आरजेडी से सुरसंड के विधायक सैयद अबू दौजान की कंपनी कर रही है. उन्होंने आरोप लगाया कि इस निर्माणधीन शापिंग मॉल का संबंध लालू के परिवार से है और उसके दो अंडरग्राउंड फ्लोर की मिट्टी संजय गांधी जैविक उद्यान को 90 लाख रुपए में बेची गई.

सुशील मोदी ने कहा कि संजय गांधी जैविक उद्यान पर्यावरण एवं वन विभाग के अंतर्गत आता है जिसके मंत्री लालू प्रसाद के पुत्र तेज प्रताप हैं. उन्होंने कहा कि इस मॉल की मिट्टी को बिकवाने के लिए सौंदर्यीकरण के नाम पर अनावश्यक रूप से 90 लाख रुपए का अनुमान पगडंडी बनाने के नाम पर किया गया. भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि लालू का परिवार अपने मॉल की मिट्टी को अपने ही विभाग को बेचकर 90 लाख रूपए की कमाई कर चुका है.

उन्होंने सवाल किया कि क्या कोई मंत्री अपनी जमीन की मिट्टी को अपने विभाग के लिए खरीद सकता है? क्या बिना टेंडर के 90 लाख रुपए की वस्तु सरकारी विभाग में खरीदी जा सकती है? क्या मुख्यमंत्री पूरी जांच करके संबंधित मंत्री को बर्खास्त करेंगे ?

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi