S M L

बीएसपी से बाहर हुए मुकुल उपाध्याय ने मायावती पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- टिकट के लिए मांगे 5 करोड़

मुकुल उपाध्याय का आरोप है कि अलीगढ़ लोकसभा क्षेत्र से वह बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहते थे, इसके बदले में बीएसपी की मुखिया मायावती ने उनसे 5 करोड़ रुपए मांगे थे

Updated On: Nov 10, 2018 10:58 AM IST

FP Staff

0
बीएसपी से बाहर हुए मुकुल उपाध्याय ने मायावती पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- टिकट के लिए मांगे 5 करोड़
Loading...

पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय ने आरोप लगाया है कि उन्हें बीएसपी से निकालने की साजिश उनके ही भाई व पूर्व कैबिनेट मंत्री रामवीर उपाध्याय ने की है. न्यूज 18 की खबर के अनुसार मुकुल उपाध्याय का आरोप है कि अलीगढ़ लोकसभा क्षेत्र से वह बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहते थे, इसके बदले में बीएसपी की मुखिया मायावती ने उनसे 5 करोड़ रुपए मांगे थे. जब उन्होंने 5 करोड़ रुपए देने से मना कर दिया तो उनके भाई रामवीर उपाध्याय ने ही यह कहा कि अब मुकुल नहीं बल्कि उनकी पत्नी यानी सीमा उपाध्याय अलीगढ़ लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगी.

साजिश के चलते उन्हें उनके भाई रामवीर ने बीएसपी से निकलवाया 

मुकुल उपाध्याय का मानना है कि इसी साजिश के चलते उन्हें उनके भाई रामवीर ने बीएसपी से निकलवाया है. यह सारी बातें उन्होंने हाथरस के राधे गार्डन में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहीं. मुकुल ने कहा कि वह अगला चुनाव अलीगढ़ लोकसभा क्षेत्र से ही लड़ेंगे. वह अपने समर्थकों के बीच जाएंगे और किस पार्टी में शामिल होंगे यह तय करेंगे.

भाई रामवीर उपाध्याय को रावण की संज्ञा दी

सिर्फ इतना ही नहीं उन्होंने अपने भाई रामवीर उपाध्याय को रावण की संज्ञा देते हुए कहा कि रामवीर उपाध्याय कभी यह नहीं चाहते थे कि उनका कद बड़े और इसी के चलते उन्होंने ही यह पूरी साजिश रची है. उन्होंने रामवीर से अपनी जान को खतरा भी बताया है. बता दें कि उपाध्याय परिवार के 4 भाई राजनीति से जुड़े हैं जबिक दो भाई राज्य सरकार में उच्च पदों पर आसीन हैं. वहीं बीएसपी ने अपने ऊपर लगे इस आरोप को खारिज करते हुए कहा है कि मुकुल उपाध्याय को इसलिए टिकट नहीं दिया गया क्योंकि वह बीजेपी से हारने की मंशा लिए बैठे थे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi