S M L

चुनाव आयोग का शिवराज-यशोधरा को निर्देश, 'बोलते वक्त सतर्कता बरतें'

कांग्रेस ने दोनों नेताओं के कोलारस और मुंगावली उपचुनाव के दौरान दिए भाषण को मुद्दा बनाकर चुनाव आयोग से इसकी शिकायत की थी

Updated On: Feb 24, 2018 12:15 PM IST

FP Staff

0
चुनाव आयोग का शिवराज-यशोधरा को निर्देश, 'बोलते वक्त सतर्कता बरतें'

चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी सरकार में मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया को अपने चुनावी भाषणों में सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है.

मुंगावली और कोलारस विधासभा उपचुनाव के प्रचार के दौरान कांग्रेस की शिकायत पर चुनाव आयोग ने इन दोनों नेताओं पर यह कार्यवाही की है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मुंगावली में प्रचार के दौरान मतदाताओं से नदी पर पुल बनाने का वादा किया था. कांग्रेस ने इसपर आपत्ति जताते हुए चुनाव आयोग से इसकी शिकायत की थी. आयोग ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए शिवराज सिंह को चेतावनी दी और अपनी जनसभाओं में सतर्कता बरतने का निर्देश दिया.

चुनाव आयोग ने बीजेपी की स्टार प्रचारक यशोधरा राजे सिंधिया की भी कोलारस उपचुनाव के दौरान मतदाताओं को धमकाने की निंदा की है. यशोधरा ने कोलारस कोलारस के पडौरा गांव में प्रचार के दौरान मतदाताओं को धमकाते हुए कहा कि 'हमारी सरकार है, हमारा विधायक नहीं बनाओगे, तो न पानी मिलेगा और न पिछड़ापन दूर होगा.'

उनके इस बयान पर कांग्रेस ने यशोधरा राजे सिंधिया के खिलाफ चुनाव आयोग से कड़ी कार्रवाई की मांग की थी. इस पर आयोग ने यशोधरा के व्यवहार की निंदा करते हुए कहा कि आप एक जिम्मेदार राजनेता हैं, इसलिए चुनाव प्रचार में जाएं तो चौकन्ना रहें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi