S M L

मदरसों की तालीम से आतंकवादी बन रहे हैं बच्चे: शिया वक्फ बोर्ड

यूपी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष के मदरसों की शिक्षा व्यवस्था पर उठाए गए सवाल से बड़ा विवाद खड़ा हो गया है

Updated On: Jan 10, 2018 10:47 AM IST

FP Staff

0
मदरसों की तालीम से आतंकवादी बन रहे हैं बच्चे: शिया वक्फ बोर्ड

उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने मदरसों की शिक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा किया है. मंगलवार को उन्होंने कहा कि मदरसों से पढ़कर कोई इंजीनियर, डॉक्टर और आईएएस नहीं बनता. बल्कि कुछ मदरसों से पढ़कर बच्चे आतंकवादी जरूर बने हैं. उन्हें बम बनाने की शिक्षा दी जा रही है.

रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखकर मदरसों को सीबीएसई, आईसीएसई और राज्य शिक्षा बोर्ड से जोड़ने की मांग की.

उन्होंने कहा कि धार्मिक शिक्षा को वैकल्पिक बनाना चाहिए. मदरसों को आधुनिक शिक्षा का केंद्र बनाने की जरूरत है जिससे उसमें सिर्फ मुस्लिम बच्चे ही नहीं बल्कि दूसरे धर्मों के छात्र भी आकर पढ़ें.

रिजवी ने कहा कि सरकार इन पहलुओं पर ध्यान देती है तो इससे हमारा देश और भी मजबूत बनेगा.

सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष के दिए इस बयान पर विवाद खड़ा हो गया. ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने उन्हें सबसे बड़ा जोकर करार दे दिया. उन्होंने कहा कि वसीम रिजवी सबसे बड़े मौकापरस्त हैं और उन्होंने अपनी आत्मा आरएसएस को बेच दी है.

ओवैसी ने रिजवी को चुनौती दी कि वो ऐसा एक भी मदरसा दिखाएं जहां छात्रों को आतंकवादी बनना सिखाया जाता है.

उन्होंने कहा कि रिजवी के पास अगर इसका कोई सबूत है तो वो देश के गृह मंत्री के पास जाकर उसे पेश करें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi