S M L

दैनिक जागरण के खिलाफ चुनाव आयोग का एफआईआर दर्ज करने का आदेश

यूपी चुनाव के पहले चरण के मतदान के बाद अखबार और एजेंसी के एग्जिट पोल प्रकाशित करने पर ये आदेश दिया

PTI Updated On: Feb 13, 2017 11:50 PM IST

0
दैनिक जागरण के खिलाफ चुनाव आयोग का एफआईआर दर्ज करने का आदेश

चुनाव आयोग ने हिंदी अखबार 'दैनिक जागरण' और एक एजेंसी के खिलाफ उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है.

आयोग ने यूपी चुनाव के पहले चरण के मतदान के बाद अखबार और एजेंसी के एग्जिट पोल प्रकाशित करने पर ये आदेश दिया.

चुनाव आयोग ने अपने निर्देशों का उल्लंघन किये जाने को गंभीरता से लेते हुए यूपी के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखकर याद दिलाया कि धारा 126-ए के तहत किए अपराध पर सजा दो साल तक की कैद या जुर्माना या दोनों है.

आयोग के दिशा-निर्देशों के खिलाफ

यूपी में इस बार विधानसभा चुनाव सात चरणों में हो रहे हैं. सभी चरणों के मतदान पूरे होने से पहले एग्जिट पोल छापना चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों के खिलाफ है.

आयोग ने कहा कि उसकी जानकारी में लाया गया है कि दैनिक जागरण ने मतदान के पहले चरण के मौके पर रिसोर्स डेवलपमेंट इंटरनेशनल: आई: प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी द्वारा कराए गए एक्जिट पोल के नतीजे अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित किया था.

चुनाव आयोग के निर्देशों के अनुसार जन प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 की धारा अनुच्छेद 126 ए के अनुसार कोई भी व्यक्ति ऐसे समय, जो आयोग द्वारा अधिसूचित हो, के दौरान कोई एक्जिट पोल नहीं कर सकता है. उसे प्रिंट या इलेक्ट्रोनिक मीडिया के जरिए प्रकाशित या प्रसारित नहीं कर सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi