S M L

नोटबंदी के मुद्दे से गरमाएगा संसद का शीतकालीन सत्र

विपक्ष के आक्रमक तेवरों से साफ है कि संसद में पहले दिन से ही हंगामा होना तय है.

Updated On: Nov 20, 2016 03:08 PM IST

Kinshuk Praval Kinshuk Praval

0
नोटबंदी के मुद्दे से गरमाएगा संसद का शीतकालीन सत्र

नोटबंदी से गरमाए माहौल के बीच आज से संसद का शीतकालीन सत्र शुरु हो रहा है. विपक्ष के आक्रमक तेवरों से साफ है कि संसद में पहले दिन से ही हंगामा होना तय है.

नोटबंदी, पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक, जीएसटी और तीन तलाक के मुद्दे पर सरकार को घेरने की विपक्ष की रणनीति है. शीतकालीन सत्र से पहले एक सर्वदलीय बैठक भी हुई थी, जिसमें सरकार ने कालाधन और भ्रष्टाचार के मुद्दे पर विपक्ष से सहयोग मांगा. लेकिन विपक्ष के विरोध के चलते संसद के भीतर हंगामे का अंदाजा लगाया जा सकता है.

कई मुद्दों पर चर्चा की मांग

लोकसभा स्पीकर ने सभी दलों के नेताओं के साथ बैठक के बाद बताया कि सभी पार्टियां चाहती हैं कि संसद की कार्यवाही सही से चले. कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि उन्होंने स्पीकर से नोटबंदी, कश्मीर में अशांति, सर्जिकल स्ट्राइक, वन रैंक वन पेंशन और सरकार की पाकिस्तान नीति जैसे मसलों पर चर्चा की मांग की है.

सर्वदलीय बैठक से पहले सोमवार को पीएम मोदी की अध्यक्षता में एनडीए और कांग्रेस की अगुवाई में विपक्षी दलों की भी अलग-अलग बैठकें हुईं थीं. एनडीए बैठक में पीएम ने कहा था कि नोटबंदी पर देश की जनता सरकार के फैसले के साथ है, लिहाजा सदन में विपक्ष के हमलों का आक्रामकता के साथ जवाब दिया जाना चाहिए. बैठक में पीएम ने साफ किया कि नोटबंदी के फैसले को वापस नहीं लिया जाएगा. बीजेपी ने दावा किया कि नोटबंदी के मसले पर एनडीए के सारे घटक दल सरकार के साथ है लेकिन एनडीए की सहयोगी शिवसेना ने विरोध का बिगुल फूंक दिया है.

सरकार के नोटबंदी के फैसले के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राष्ट्रपति भवन तक मार्च कर रही हैं. इससे पहले ममता बनर्जी ने दिल्ली में अरविंद केजरीवाल से इस मुद्दे पर देर तक बात की है. ममता ने सभी राजनीतिक दलों से एक साथ इस मुद्दे पर विरोध करने की अपील की है.

नोटबंदी पर ममता के साथ नहीं कांग्रेस

ममता की अगुवाई में टीएमसी, आम आदमी पार्टी, नेशनल कॉन्फ्रेंस के साथ बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना भी शामिल हो रही है. हालांकि कांग्रेस और दूसरे बड़े राजनीतिक दल ममता के मार्च का हिस्सा नहीं बनेंगे.

कांग्रेस,बीएसपी और टीएमसी की नोटबंदी पर चर्चा कराने की मांग है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी के मामले में पीएम मोदी पर फिर निशाना साधा है.राहुल गांधी ने कहा, ‘करीब 18-20 लोगों की कतारों में मौत हो गई और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हंस रहे हैं. उनको स्पष्ट करना चाहिए कि वह हंस रहे हैं या रो रहे हैं.’ राहुल ने मोदी के जापान और गोवा दौरे को निशाना बनाते हुए ये हमला किया है.

ऐसे में  सरकार भी पुख्ता तैयारी के साथ संसद में विपक्ष का सामना करने के लिये तैयार है लेकिन फैसले के चलते लोगों को हो रही आम दिक्कतों की वजह से उसके माथे से पसीना भी बह रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi