विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

एमसीडी चुनाव: बीजेपी के टिकट बंटवारे में पदाधिकारियों की बल्ले-बल्ले

बीजेपी ने कहा था कि पार्टी कार्यकर्ताओं को अधिक टिकट दिया जाएगा

Amitesh Amitesh Updated On: Apr 05, 2017 02:56 PM IST

0
एमसीडी चुनाव: बीजेपी के टिकट बंटवारे में पदाधिकारियों की बल्ले-बल्ले

एमसीडी चुनाव में बीजेपी के भीतर टिकट बंटवारे के वक्त दावे इस बात के किए जाते रहे हैं कि किसी भी हाल में पार्टी पदाधिकारियों को टिकट नहीं दिया जाएगा. पार्टी की तरफ से इस बात के दावे किए जा रहे थे कि हर हाल में कार्यकर्ताओं को तरजीह दी जाएगी. लेकिन, टिकट बंटवारे के बाद जो तस्वीर सामने आई थी वो चौंकाने वाली है.

बीजेपी के तमाम दावे धरे के धरे रह गए हैं. पार्टी पदाधिकारी चुनाव मैदान में अब ताल ठोक रहे हैं. कार्यकर्ता मुंह ताक रहे हैं. इनमें तो कुछ ऐसे पार्टी पदाधिकारी हैं जो पहले भी विधानसभा से लेकर पार्षद तक का चुनाव लड़ चुके हैं लेकिन, अबतक जीत नसीब नहीं हो पाई है.

इन पार्टी पदाधिकारियों में सबसे पहले नाम आता है शिखा राय का. शिखा राय बीजेपी दिल्ली की  उपाध्यक्ष हैं. इसके पहले वो विधानसभा चुनाव भी लड़ चुकी हैं, लेकिन, उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. इस बार एमसीडी चुनाव में शिखा राय को ग्रेटर कैलाश से उम्मीदवार बनाया गया है.

शिखा राय के अलावा दिल्ली बीजेपी की एक और उपाध्यक्ष कमलजीत सहरावत द्वारका–बी सीट से अपनी किस्मत आजमाएंगी, जबकि सदर बाजार सीट से प्रदेश उपाध्यक्ष जयप्रकाश चुनाव मैदान में होंगे. जयप्रकाश को बीजेपी सांसद विजय गोयल का करीबी माना जाता है.

इसके अलावा रोहिणी एफ सीट से प्रदेश बीजेपी की सचिव प्रीति अग्रवाल पार्टी टिकट पर पार्षद बनने के लिए जोर आजमाइश कर रही हैं. अभी हाल ही में दिल्ली बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष बनाई गई पूनम पराशर झा को मुबारकपुर डबास से टिकट मिला है.

पूनम पराशर के पति अनिल झा तीन बार दिल्ली से बीजेपी विधायक भी रहे हैं. इसके अलावा बीजेपी की तरफ से और कई पदाधिकारियों और पूर्व पदाधिकारियों को एमसीडी चुनाव मैदान में उतारा है.

राजकुमार बल्लान को ब्राह्मपुरी से टिकट मिली है जो पहले मयूर विहार जिला प्रभारी और जिला अध्यक्ष रह चुके हैं. पूर्वांचल मोर्चा के अध्यक्ष बिपिन बिहारी को पटपड़गंज से टिकट मिला है. बाहरी दिल्ली बीजेपी के जिलाध्यक्ष विनय रावत को पीरागढ़ी से निगम चुनाव में उतारा गया है.

इसके अलवा नवीन शाहदरा जिला अध्यक्ष प्रवेश वर्मा और शाहदरा जिलाध्यक्ष संतोष कुमार पाल को भी निगम चुनाव में बीजेपी ने टिकट थमा दिया है. पोलिंग बूथ कार्यक्रम के संयोजक तिलकराज कटारिया भी बीजेपी की तरफ से चुनाव मैदान में हैं.

बीजेपी उम्मीदवारों की सूची पर नजर डालने पर साफ लग रहा है कि करीब 40 से ज्यादा पार्टी पदाधिकारियों को एमसीडी चुनाव मैदान में उतारा गया है.

हालाकि बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी का कहना है कि जिन जगहों पर पार्टी के मौजूदा जिलाध्यक्ष चुनाव मैदान में हैं उन सभी जगहों पर जल्द ही कार्यकारी जिलाध्यक्ष बनाया जाएगा, जो एमसीडी चुनाव में पार्टी के काम  पर फोकस कर सकें.

लेकिन, पार्टी के पास इस बात का कोई ठोस जवाब नहीं है कि पार्टी कार्यकर्ताओं के उपर पार्टी पदाधिकारियों को तरजीह क्यों दी गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi