S M L

मेर्सल विवाद: नोटबंदी-जीएसटी के आलोचक देशद्रोही नहीं- शत्रुघ्न

दीपावली के दिन रिलीज हुई 'मेर्सल' के कुछ डायलॉग में जीएसटी और डिजिटल इंडिया कैंपेन का मजाक उड़ाया गया है

Updated On: Oct 21, 2017 10:54 PM IST

FP Staff

0
मेर्सल विवाद: नोटबंदी-जीएसटी के आलोचक देशद्रोही नहीं- शत्रुघ्न

बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने ‘मेर्सल’ विवाद पर कहा है कि जीएसटी और नोटबंदी पर लोगों की अलग-अलग राय है, इसका मतलब यह नहीं है कि आलोचक देश विरोधी हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोग जीएसटी के समर्थक हैं, कुछ विरोधी, कुछ लोग नोटबंदी के समर्थक हैं और कुछ विरोधी, लेकिन विरोध करने वालों को देशद्रोही नहीं कह सकते.

दक्ष‍िण के सुपरस्टार विजय की एक्शन ड्रामा फिल्म ‘मेर्सल’ को लेकर सियासत गरमा गई है. बीजेपी नेताओं ने फिल्‍म की कुछ बातों को लेकर ऐतराज जताया है.

दीपावली के दिन रिलीज हुई 'मेर्सल' के कुछ डायलॉग में जीएसटी और डिजिटल इंडिया कैंपेन का मजाक उड़ाया गया है. बीजेपी ने फिल्म के निर्माता से ये दृश्य हटाने की मांग की है.

शनिवार को राहुल गांधी ने भी इस मुद्दे पर पीएम मोदी पर निशाना साधा.

पटना विश्वविद्यालय के कार्यक्रम पर भी साधा निशाना

अपने बयानों के कारण अक्सर सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने पटना यूनिवर्सिटी के शताब्दी समारोह पर सवाल उठाया है. 'बिहारी बाबू' ने समारोह में हुए खर्चे पर सवाल उठाया है.

पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में नही बुलाए जाने पर पटना साहिब के सांसद ने जमकर भड़ास निकाली है. उन्होंने कहा कि हमे बुला लिया होता तो थोड़ी शोभा और बढ़ जाती, लेकिन उन्होंने नहीं बुलाया. 'बिहारी बाबू' ने कहा कि जितने खर्च पीएम को बुलाने में किए गए उतने से विश्वविद्यालय का विकास किया जा सकता था.

वही पटना विश्वविद्यालय के केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाए जाने की मांग का उन्होंने समर्थन करते हुए कहा कि दर्जा मिलनी चाहिए, लेकिन जो मापदंड है उसे भी पूरा करना चाहिए. उन्होंने कुलपति की नियुक्ति और शिक्षकों की भारी कमी पर भी सवाल उठाया. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा जो कुलपति आते हैं वो जुगाड़ से आते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi