S M L

येचुरी पर भारी पड़े करात: 2019 में कांग्रेस से तालमेल नहीं करेगी CPM

केंद्रीय समिति की बैठक में दोनों नेताओं के प्रस्ताव पर वोटिंग कराई गई, इसमें प्रकाश करात का गुट 55-31 के अंतर से जीत गया

Updated On: Jan 21, 2018 03:50 PM IST

FP Staff

0
येचुरी पर भारी पड़े करात: 2019 में कांग्रेस से तालमेल नहीं करेगी CPM

सीपीएम 2019 के आम चुनावों में कांग्रेस पार्टी से तालमेल नहीं करेगी. पार्टी की केंद्रीय कमेटी ने रविवार को इस बारे में एक प्रस्ताव पास किया.

सीपीएम के पूर्व महासचिव प्रकाश करात कांग्रेस से किसी भी तरह के गठबंधन के खिलाफ हैं. पोलित ब्यूरो की कोलकाता में हुई बैठक में इसपर आम राय बनी. वहीं, महासचिव सीताराम येचुरी के नेतृत्व वाला पार्टी का दूसरा धड़ा बीजेपी से टक्कर लेने के लिए कांग्रेस के साथ हाथ मिलाने को लेकर नरम है.

केंद्रीय समिति की बैठक में दोनों नेताओं के प्रस्ताव पर वोटिंग कराई गई, जिसमें करात का गुट 55-31 के अंतर से जीत गया. पास किए गए इस प्रस्‍ताव को अप्रैल में हैदराबाद में होने वाली सीपीएम-कांग्रेस की बैठक में औपचारिक रूप से अपनाने के लिए रखा जाएगा.

केंद्रीय कमेटी की तीन दिन तक चली बैठक में पार्टी के दोनों धड़ों के बीच का विवाद उभरकर सामने आया. इस दौरान प्रकाश करात और सीताराम येचुरी के बीच भी मतभेद नजर आया.

इस गतिरोध का हल निकालने के लिए वर्ष 2014 से सीपीएम के ताकतवर पोलित ब्यूरो और सेंट्रल समितियों की कई बैठकों हुईं लेकिन इसका कोई सार्थक नतीजा नहीं निकला.

कम्युनिस्टों को 1964 में अंतिम बार दो अलग-अलग मसौदे (ड्राफ्ट) का सामना करना पड़ा था, जिसके बाद कम्युनिस्ट पार्टी का विभाजन हो गया था और सीपीएम और सीपीआई का गठन हुआ था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi