S M L

राहुल गांधी को क्या भारत में केले नहीं मिलते: स्मृति ईरानी

इन पौधों को बांटने का काम इंदिरा गांधी के जन्म दिवस से शुरू होकर सोनिया गांधी के जन्म दिवस नौ दिसंबर तक चलेगा

Updated On: Nov 20, 2018 09:05 AM IST

FP Staff

0
राहुल गांधी को क्या भारत में केले नहीं मिलते: स्मृति ईरानी

अमेठी में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के लगातार दौरों के बीच स्थानीय सांसद राहुल गांधी ने अपने चुनाव क्षेत्र के किसानों से किए अपने वादे को निभाते हुए उन्हें इजराइल के केले के पौधे भेजे हैं. कांग्रेस प्रवक्ता अंशुल अवस्थी ने बताया कि स्थानीय किसान अपने सांसद गांधी से उनकी पिछली यात्रा के दौरान मिले थे और उनसे केले की खेती में संभावना के बारे में बातचीत की थी. इस पर पार्टी अध्यक्ष ने उनके लिए 40 हजार केले के पौधे भेजे हैं.'

इस पर स्मृति ईरानी से चुटकी लेते हुए कहा कि क्या राहुल गांधी को भारत में केले नहीं मिलते. राहुल गांधी को यह मालूम होना चाहिए कि केले के दो पौधे लगा देने से किसानों की गरीबी दूर नहीं होगी. उन्होंने कहा, ईरानी ने कहा, 'राहुल गांधी देश भर में बीजेपी और आरएसएस की आलोचना करते हैं. जबकि वह खुद केले के पौधे बांट रहे हैं जो आरएसएस करती है.'

अवस्थी ने बताया कि यहां इजराइल से लाए गए केले के पौधे जी 9 प्रजाति के है. जिनकी पैदावार काफी अधिक होती है. क्षेत्र के किसानों के बीच इन पौधों को बांटने की जिम्मेदारी खेतिहर मजदूर कांग्रेस के प्रमुख अनिल शुक्ला को दी गई है. अवस्थी ने बताया कि इससे किसानो की आमदनी बढे़गी. इन पौधों को बांटने का काम इंदिरा गांधी के जन्म दिवस से शुरू होकर सोनिया गांधी के जन्म दिवस नौ दिसंबर तक चलेगा.

बीजेपी नेता राहुल गांधी पर अक्सर आरोप लगाते रहे हैं कि इतने लंबे समय तक गांधी परिवार का चुनावी गढ़ होने के बावजूद इस चुनावी क्षेत्र के आधारभूत विकास के लिए कुछ नही किया गया. 2014 का लोकसभा चुनाव हारने के बाद भी केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी लोकसभा क्षेत्र में लगातार सक्रिय हैं. ताकि वह 2019 के चुनाव में वह कांग्रेस से उनकी परंपरागत सीट छीन सकें. कहा जाता है इस साल ईरानी ने अमेठी की महिलाओं के लिए करीब दस हजार साड़ी भेजी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi