S M L

कांग्रेस 2019 में ड्राइविंग सीट छोड़े: तेजस्वी यादव

आरजेडी नेता ने यूपी और बिहार का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां जब एसपी-बीएसपी और आरजेडी मजबूत हैं तो कांग्रेस को इन्हीं पार्टियों को 'ड्राइविंग सीट' पर बिठाना चाहिए

Bhasha Updated On: Jun 24, 2018 02:39 PM IST

0
कांग्रेस 2019 में ड्राइविंग सीट छोड़े: तेजस्वी यादव

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि कांग्रेस को उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में बाकी पार्टियों को ‘ड्राइविंग सीट’ पर रखना चाहिए जहां वह सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी नहीं है. साथ ही उन्होंने कहा कि 2019 में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए ‘अहंकार’ को दूर रखने की जरूरत है.

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री ने पीटीआई-भाषा को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘मेरी नजर में प्रधानमंत्री उम्मीदवार के बारे में बात अहम नहीं है क्योंकि देश के  सामने खतरा है. संविधान, लोकतंत्र और आरक्षण खतरे में है.’ यादव ने कहा कि विपक्ष एक साथ आ कर जीत सकता है. उन्होंने कहा कि 2019 का चुनाव गांधी- अांबेडकर- मंडल बनाम गोलवलकर-गोडसे के बीच लड़ा जाएगा.

विपक्षी गठबंधन की जरूरत पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते कांग्रेस पर दूसरी पार्टियों को साथ लेकर चलने की बड़ी जिम्मेदारी है. यादव ने कहा, ‘लेकिन कांग्रेस को यह देखना है कि वह बाकी पार्टियों को साथ लेकर कैसे चलेगी. बिहार में हमारी (आरजेडी) सबसे बड़ी पार्टी है तो उसे इसके मुताबिक रणनीति बनानी चाहिए. उदाहरण के लिए उत्तर प्रदेश देखिए जब मायावती जी और अखिलेश जी एक साथ आए तो उसे इसके मुताबिक रणनीति बनानी चाहिए.’

आरजेडी नेता ने कहा, कांग्रेस को केवल अपने हित ही नहीं बल्कि अपने सहयोगियों के हितों को भी ध्यान में रखना चाहिए और यह तय करना चाहिए कि उन्हें सम्मान दिया जाए. उन्होंने कहा कि करीब 18 राज्यों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है. उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में कांग्रेस को सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी को ‘ड्राइविंग सीट’ पर बैठाना चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi