S M L

'सुर्खियों में रहने के बजाए ‘डिफाल्टरों’ पर कब कार्रवाई करेगी मोदी सरकार?'

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने वर्ष 2022 तक सभी को मकान उपलब्ध कराने के मोदी सरकार के वादे को ‘बड़ा जुमला’ करार दिया और कहा कि यही गति रही तो 2 करोड़ मकान बनाने में 240 साल लग जाएंगे

Updated On: Jun 05, 2018 04:36 PM IST

Bhasha

0
'सुर्खियों में रहने के बजाए ‘डिफाल्टरों’ पर कब कार्रवाई करेगी मोदी सरकार?'

कांग्रेस ने इस साल बैंकिंग क्षेत्र के एक लाख करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज बट्टे खाते में डाले जाने दावा करते हुए नरेंद्र मोदी से पूछा कि, सरकार सुर्खियों में रहने की चिंता करने की बजाय डिफाल्टरों पर कार्रवाई कब करेगी?

कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, ‘बैकिंग क्षेत्र संकट में है, बैंकों में आम आदमी के पैसे खतरे में हैं क्योंकि फंसे कर्ज (बैड लोन) बढ़ गए और 2018 में ही एक लाख करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज बट्टे खाते में डाल दिये गए.’

उन्होंने कहा, ‘मोदी सरकार सुर्खियों में रहने की बजाय डिफाल्टरों पर कार्रवाई और बैंक सुधार कब करेगी?’

सुरजेवाला ने वर्ष 2022 तक सभी को मकान उपलब्ध कराने के सरकार के वादे को ‘बड़ा जुमला’ करार दिया और कहा कि यही गति रही तो 2 करोड़ मकान बनाने में 240 साल लग जाएंगे.

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘प्रिय प्रधानमंत्री जी, 2 करोड़ मकानों के निर्माण का लक्ष्य पूरा करने में आपकी सरकार को 240 साल लग जाएंगे. आपने इस लक्ष्य का सिर्फ 3 फीसदी ही पूरा किया है.’

कांग्रेस के प्रवक्ता ने एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि जनवरी, 2018 तक मोदी सरकार सिर्फ 3.33 लाख मकान ही बना पाई है. सुरजेवाला ने कहा कि शहरों में ‘सभी के लिए मकान’ का वादा ‘बड़ा जुमला’ बनकर रह गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi