S M L

LIVE संविधान बचाओ अभियान: राहुल गांधी ने कहा, 2019 में जनता अपने मन की बात बताएगी

दलित समुदाय के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के प्रयास के तहत कांग्रेस का शुरू हो रहा 'संविधान बचाओ' अभियान अगले एक साल तक चलेगा

FP Staff | April 23, 2018, 01:13 PM IST

0

हाइलाइट

Apr 23, 2018

  • 13:41(IST)

    राहुल गांधी ने कहा कि जब भी बीजेपी और आरएसएस इस समाज के कमजोर और दलित लोगों पर हमला करेंगे कांग्रेस पार्टी उनके हितों की रक्षा करेगी.

  • 13:36(IST)

    इस देश में दलितों, गरीबों, महिलाओं की रक्षा ये संविधान करता है। और इस संविधान को अंबेडकर जी ने और कांग्रेस पार्टी ने लिखा और हिंदुस्तान को दिया- राहुल गांधी

  • 13:35(IST)

    बीजेपी और आरएसएस के लोग इस संविधान को कभी नहीं छू पायेंगे, हम ऐसा होने नहीं देंगे: राहुल गांधी

  • 13:35(IST)

    70 साल में देश की इज्जत कांग्रेस पार्टी ने बनाई है और पिछले 4 साल में मोदी जी ने इस इज्जत पर चोट मारी है- राहुल गांधी

  • 13:32(IST)

    राहुल ने रेप के मुद्दों पर बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि अब पीएम नया स्लोगन देंगे- 'बेटी बचाओ, बीजेपी के लोगों से बचाओ.'

  • 13:28(IST)

    राहुल ने पीएम पर दलितों के मु्द्दे पर घेरते हुए कहा कि पीएम अपनी किताब कर्मयोग में वाल्मिकी समुदाय के मैला ढोने को आध्यात्मिक अनुभव बताकर सही ठहराया है, उनकी इस मानसिकता से ही उनकी दलितों के प्रति विचार साफ हो जाते हैं.

  • 13:12(IST)

    2019 में जनता अपने मन की बात बताएगी. अब 'बीजेपी से बेटी बचाओ' का नारा: राहुल गांधी

  • 13:10(IST)

    पीएम मोदी को सिर्फ मोदी में रुचि है. पीएम मोदी नीरव पर जवाब नहीं दे रहे हैं. सरकार ने नीरव मोदी के लिए संसद ठप की: राहुल गांधी

  • 13:09(IST)

    राहुल ने पूछा कि दो करोड़ लोगों के रोजगार का क्या हुआ. उन्होंने कहा कि पीएम ने अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी हैं.

  • 13:09(IST)

    राहुल ने पूछा कि दो करोड़ लोगों के रोजगार का क्या हुआ. उन्होंने कहा कि पीएम ने अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी हैं.

  • 13:05(IST)

    राहुल ने कहा कि गुजरात में दलितों पर हो रहे अत्याचार को लेकर कांग्रेस पार्टी ने आवाज उठाई. देश में संविधान ही दलितों, महिलाओं की रक्षा देश करता है. संविधान को आंबेडकर जी और कांग्रेस ने देश को दिया. आज सुप्रीम कोर्ट, हाई कोर्ट हैं तो इनकी नींव संविधान है. आरएसएस की विचारधारा के लोग आज हर संस्थान में डाले जा रहे हैं.

  • 13:01(IST)

    संविधान बचाओ अभियान: राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी नीरव मोदी, माल्या और राफेल पर बात करने में डरते हैं. मेरी संसद में 15 मिनट स्पीच करा लो, मोदी जी वहां खड़े नहीं हो पाएंगे. आमतौर पर विपक्ष संसद नहीं चलने देती, लेकिन यहां सरकार खुद संसद नहीं चलने देती. 

  • 12:59(IST)

    संविधान बचाओ अभियान: राहुल गांधी ने कहा कि शौचालय साफ करना अध्यात्म कैसे. देश के दलित पीएम मोदी से नाराज हैं. पूरे देश में दलित समाज पर अत्याचार बढ़ें हैं.

  • 12:57(IST)

    संविधान बचाओ अभियान: राहुल गांधी ने कहा कि पीएम के दिल में दलितों के लिए जगह नहीं

  • 12:55(IST)

    संविधान बचाओ अभियान: पीएम मोदी के विचारों पर राहुल गांधी ने सवाल उठाए. दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में उन्होंने कहा मैला ढोने वालों का पीएम ने मजाक बनाया.

LIVE संविधान बचाओ अभियान: राहुल गांधी ने कहा, 2019 में जनता अपने मन की बात बताएगी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज यानी सोमवार को ‘संविधान बचाओ’ अभियान (सेव द कॉन्स्टीट्यूशन) की शुरुआत करेंगे. इसकी शुरुआत दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में सुबह 10:30 बजे होगी. इस कार्यक्रम का मकसद संविधान और दलितों पर कथित हमलों के मुद्दे को राष्ट्रीय स्तर पर उठाना है.

'संविधान बचाओ' अभियान अगले साल बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती 14 अप्रैल तक जारी रहेगा. वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले दलित समुदाय के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के प्रयास के तहत कांग्रेस का यह अभियान शुरू हो रहा है.

बता दें कि देश में तकरीबन 17 प्रतिशत दलित वोट हैं.

अभियान के शुरुआत के मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे और सुशील कुमार शिंदे समेत पार्टी के अन्य नेता भी इसमें शामिल हो सकते हैं. कांग्रेस के मौजूदा और पूर्व सांसद, जिला परिषदों, नगरपालिकाओं और पंचायत समितियों में पार्टी के दलित समुदायों के प्रतिनिधि और पार्टी की स्थानीय इकाइयों के पदाधिकारी भी इसमें हिस्सा लेंगे.

पार्टी के एक नेता ने कहा, ‘बीजेपी सरकार में संविधान खतरे में है. दलित समुदाय को शिक्षा और नौकरियों में अवसर नहीं मिल रहे हैं. इस अभियान का मकसद इन मुद्दों को राष्ट्रीय स्तर पर उठाना है.’ कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग के प्रमुख विपिन राउत ने एक बयान में दावा किया कि 2014 में बीजेपी जब से केंद्र की सत्ता में आई है, किसी न किसी तरीके से देश के संविधान पर हमले होते रहे हैं. इससे समाज के वंचित तबकों को उनके संवैधानिक अधिकार नहीं मिल रहे हैं.

उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी-आरएसएस अनुसूचित जातियों (एससी), अनुसूचित जनजातियों (एसटी) और अन्य कमजोर तबकों को मिली सामाजिक सुरक्षा को भंग करना चाहती है. आरएसएस विचारधारा संविधान के मूल ढांचे पर हमला करता है. कांग्रेस पार्टी इसका मुकाबला करेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi