S M L

कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में जारी किया अपना घोषणापत्र, किसानों की ऋण माफी और महिला सुरक्षा को दी गई प्राथमिकता

पार्टी ने इसे 'जन घोषणापत्र' का नाम दिया है

Updated On: Nov 09, 2018 08:10 PM IST

FP Staff

0
कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में जारी किया अपना घोषणापत्र, किसानों की ऋण माफी और महिला सुरक्षा को दी गई प्राथमिकता
Loading...

छत्तीगसढ़ में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के पूर्व राज्य के 24 जिलों का दौरा करने के बाद शुक्रवार को कांग्रेस के प्रमुख राहुल गांधी ने राजनंदगांव में अपनी पार्टी का घोषणापत्र जारी कर दिया है.

टाइम्सनाऊ की खबर अनुसार अपने मेनिफेस्टो में कांग्रेस ने किसानों, महिलाओं और शिक्षा से जुड़ी समस्याओं को शामिल किया है. इसके लिए कांग्रेस ने किसानों, महिलाओं के प्रतिनिधियों, श्रमिक संगठनों, छात्रों, शिक्षकों, खनन श्रमिकों, आदिवासियों, व्यापारियों, डॉक्टरों, नर्सों, राजनीतिक संगठनों, गृहिणियों, वकीलों सहित अन्य संगठनों और प्रतिनिधियों से सावधानीपूर्वक जानकारी ली.

पार्टी ने इसे  'जन घोषणापत्र' का नाम दिया है. अपने घोषणापत्र में कांग्रेस ने मतदान के 10 दिनों के भीतर ही सत्ता में आने के बाद ऋण में छूट देने का वादा किया है. उन्होंने छत्तीसगढ़ की महिलाओं के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं और एक सुरक्षित समाज का भी वादा किया है.

कांग्रेस के घोषणापत्र की मुख्य बातें-

- सरकार बनाने के दस दिनों के भीतर ही किसानों का ऋण माफ करना. स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के आधार पर फसल पर मिलने वाली एमएसपी रेट तय की जाएगी. 60 साल से अधिक उम्र वाले किसानों को पेंशन भी दिया जाएगा.

- घरेलू खपत के लिए बिजली बिलों में भी पचास प्रतिशत की छूट मिलेगी. शहरी और ग्रामीण परिवारों को भूमि और घर बनाने का भी वादा किया गया है.

- 35 किलो चावल 1 रुपए प्रति किलो के हिसाब से दिए जाएंगे.

- 'घर-घर रोजगार और हर घर रोजगार' के तहत युवाओं को नौकरी के नए अवसर मुहैया कराए जाएंगे. राजीव मित्र योजना के तहत, कांग्रेस सरकार वित्तीय सहायता के लिए 10 लाख बेरोजगार युवाओं को मासिक अनुदान प्रदान करेगी.

- कांग्रेस की जन घोषणा पत्र में महिलाओं की सुरक्षा से जुड़े मसले को सबसे ज्यादा प्राथमिकता दी गई है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi