S M L

मोदी पर लगाए आरोपों के 'सबूत' लेकर आए सुरजेवाला

कांग्रेस ने राहुल के पीएम मोदी पर लगाए आरोपों के समर्थन में पीसी की

Updated On: Dec 21, 2016 07:10 PM IST

FP Staff

0
मोदी पर लगाए आरोपों के 'सबूत' लेकर आए सुरजेवाला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राहुल गांधी के आरोपों के बाद भाजपा और कांग्रेस के साथ सत्ता गलियारे में गहमा—गहमी बढ़ गई है. राहुल के आरोप के बाद भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके राहुल पर हमला बोला. रविशंकर प्रसाद की प्रेस कॉन्फ्रेंस के तुरंत बाद कांग्रेस की ओर से रणदीप सुरजेवाला ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस करके राहुल गांधी के आरोपों का समर्थन किया और प्रधानमंत्री से जवाब मांगा.

उन्होंने कहा

बिरला ग्रुप में सीबीआई और इनकम टैक्स विभाग की संयुक्त रेड थी जिसमें एक लैपटॉप मिला. इसमें घूस दिए जाने की सूचना थी.

रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'इनकम टैक्स विभाग ने इस मामले में गोलमाल की बात कही और जांच की सिफारिश की. इनकम टैक्स विभाग ने सीबीआई से जांच के लिए कागजात मांगे लेकिन नहीं दिए गए. आयकर विभाग सुप्रीम कोर्ट गए. इसके बाद मोदी की सरकार आ गई. 30 महीने से मोदी जी से पूछताछ क्यों नहीं हुई. मैं भी चाहता हूं कि मोदी जी पाक साफ रहें, लेकिन वे जवाब तो दें.'

RahulGandhi_Goa

सुरजेवाला ने कहा,

सहारा समूह पर भी छापे में 40 करोड़ की एंट्री का कागजात मिला. इसमें मोदी को 40 करोड़ घूस देने की बात कही गई.

उन्होंने कहा, 'हम भी चाहते हैं कि प्रधानमंत्री पाक साफ हों, लेकिन वे मौका तो दें. क्या उनसे कभी पूछा गया कि उन्होंने पैसे लिए या नहीं लिए? अगर प्रधानमंत्री जी यह कह दें कि मैंने पैसा नहीं लिया, मैं जांच के लिए तैयार हूं. आज तक तो उनसे कोई पूछताछ नहीं हुई.'

गंगा की पवित्रता वाले रविशंकर के बयान पर तंज करते हुए सुरजेवाला ने कहा, 'हम विपक्ष के तौर पर सवाल पूछ रहे हैं, उन्हें बिना तिलमिलाए, बिना गुस्साए, बिना गाली गलौज किए जवाब देना चाहिए. जांच करवा लें तो दूध का दूध पानी का पानी अलग हो जाएगा. भाजपा के मित्र खिसियानी बिल्ली की तरह व्यवहार कर रहे हैं. इससे सवाल उठता है कि कहीं बिल्ली को ही दूध की रखवाली का जिम्मा तो नहीं दे दिया गया है?'

उन्होंने पत्रकारों का जवाब देते हुए कहा, 'हम प्रधानमंत्री मोदी जी का आदर करते हैं. लेकिन उन्हें सामने आकर आरोपों का जवाब देना चाहिए कि जो कागजात मिले हैं, उनमें दर्ज सूचनाएं सही हैं या गलत हैं? गाली गलौज करके भाजपा क्या साबित करना चाहती है? इससे इल्जाम नहीं हट जाएंगे. उन्हें निष्पक्ष जांच करवानी चाहिए.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi