S M L

'बेटी बचाओ' अभियान के लिए फंड नहीं और प्रचार पर 4600 करोड़ खर्च कर रही मोदी सरकार: कांग्रेस

महिला कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार की नीयत अच्छी होती तो महिला आरक्षण बिल आ गया रहता

Updated On: May 27, 2018 01:55 PM IST

Bhasha

0
'बेटी बचाओ' अभियान के लिए फंड नहीं और प्रचार पर 4600 करोड़ खर्च कर रही मोदी सरकार: कांग्रेस

महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री महिला अधिकारों को लेकर गंभीर हैं तो महिला आरक्षण विधेयक लाएं जिसका कांग्रेस पार्टी संसद के दोनों सदनों में समर्थन करेगी. सुष्मिता ने यह दावा भी किया कि मोदी सरकार में दबाव के कारण बीजेपी की महिला नेता महिलाओं के खिलाफ अपराध के मुद्दे पर खुलकर अपनी राय नहीं रख पा रही हैं जबकि यूपीए सरकार के समय ये लोग काफी मुखर थे.

उन्होंने कहा, ‘इस सरकार को चार साल हो गए. क्या आपने एक बार भी सुना कि मोदी जी ने महिला आरक्षण को लेकर कोई पहल की हो? अगर वह महिला सशक्तीकरण को लेकर गंभीर हैं और उनका इरादा नेक है तो फिर वह जल्द से जल्द महिला आरक्षण विधेयक लाएं. कांग्रेस पार्टी लोकसभा और राज्यसभा में इसका समर्थन करेगी.’

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता ने यह भी कहा कि यूपीए सरकार में कई पार्टियां आरक्षण के भीतर आरक्षण की मांग कर रही थीं और ऐसे में कांग्रेस बिल पास कराने में सफल नहीं हो पाई लेकिन मोदी सरकार के पास स्पष्ट बहुमत है और वह इस दिशा में कदम बढ़ा सकती है.

यूपीए सरकार के समय लोकसभा और राज्य विधानसभाओं में महिलाओं के लिए 33 फीसदी आरक्षण वाला विधेयक नौ मार्च, 2010 को राज्यसभा में पारित किया गया था लेकिन 15वीं लोकसभा के भंग होने के बाद यह बिल बेकार हो गया.

सुष्मिता ने आरोप लगाया, ‘2014 में मोदी जी ने इसे बड़ा मुद्दा बनाया था और महिलाओं को लगा कि इनके आने से हालत सुधरेगी. लेकिन पिछले चार साल में महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले बढ़े हैं.’

उन्होंने दावा किया, ‘नरेंद्र मोदी जी के डर से निर्मला सीतारमण, सुषमा स्वराज और स्मृति ईरानी जैसी बीजेपी की महिला नेता महिला अपराध के मामले पर चुप हैं, जबकि निर्भया मामले के समय ये लोग काफी मुखर थे.’ सुष्मिता ने यह भी आरोप लगाया कि मोदी सरकार में फंड के अभाव के चलते ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ जैसी योजना मजाक बन गई है और यह सरकार अपने प्रचार पर 4600 करोड़ रुपए खर्च कर रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi