S M L

नारायण राणे ने कांग्रेस छोड़ने की अफवाह खारिज की

राणे ने पत्रकारों को बताया कि उनके कांग्रेस छोड़ने की अफवाहें पार्टी में एक तबके के लोगों की ‘साजिश’ है

FP Staff Updated On: Mar 23, 2017 11:22 PM IST

0
नारायण राणे ने कांग्रेस छोड़ने की अफवाह खारिज की

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे ने कांग्रेस छोड़ने की अफवाहों को आज खारिज कर दिया और आरोप लगाया कि पार्टी में उनके विरोधियों की ओर से ऐसी चीजें फैलाई जा रही हैं.

राणे ने पत्रकारों को बताया कि उनके कांग्रेस छोड़ने की अफवाहें पार्टी में एक तबके के लोगों की ‘साजिश’ है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने शिवसेना या बीजेपी के किसी नेता से न तो बात की है, न ही मुलाकात की है. मेरे बारे में अफवाहें फैला रहे कांग्रेस नेताओं के नाम का खुलासा मैं उचित समय पर करूंगा. मैं पद के पीछे नहीं भागता, वे मेरे पास आते हैं . मुझे अपने काम और योग्यता के आधार पर पद मिले हैं.’

ऐसी अटकलें हैं कि कांग्रेस के मौजूदा हालचाल से राणे निराश हैं. राणे ने कहा कि वह कांग्रेस से नहीं बल्कि पार्टी के कुछ नेताओं से निराश हैं .

किसी नेता का नाम लिए बगैर राणे ने कहा, ‘कांग्रेस में जो कुछ हो रहा है, वह पार्टी के लिए अच्छा नहीं है. पार्टी के कार्यकर्ता निराश हैं और छोड़कर जा रहे हैं. अपने हित के लिए पार्टी के पदों का इस्तेमाल करना अच्छी बात नहीं है.’

राहुल गांधी को बताई थी महाराष्ट्र कांग्रेस की हालात 

राणे ने कहा कि निकाय चुनावों से पहले उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी ताकि महाराष्ट्र में पार्टी के हालात से उन्हें अवगत कराया जा सके.

पार्टी की प्रदेश इकाई में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर उन्होंने कोई टिप्पणी नहीं की और कहा कि वह नेतृत्व को अपनी भावनाओं से अवगत कराएंगे, बशर्ते उनसे कहा जाए.

यह पूछे जाने पर कि क्या वह कांग्रेस में नाखुश हैं, इस पर राणे ने कहा, ‘नाखुश होने का फायदा क्या है. पार्टी नाखुशी पर गौर ही नहीं करती और वजह ही नहीं समझती.’

राणे ने प्रदेश कांग्रेस महासचिव के पद से अपने बेटे नीलेश राणे के हालिया इस्तीफे को सही ठहराया और कहा, ‘रत्नागिरि जिला इकाई के अध्यक्ष का पद पिछले डेढ़ साल से खाली पड़ा है...नौ-दस जगहों पर ऐसी ही हालत है. इस तरह कोई पार्टी कैसे चल सकती है.’

रत्नागिरि इकाई में कुछ अहम पदों को भर पाने में नाकाम रहने पर पूर्व सांसद नीलेश राणे कथित तौर पर प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण से नाराज थे .

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi