S M L

जयराम रमेश ने RS सभापति को लिखा पत्र, 2 हफ्ते का विशेष सत्र बुलाने की मांग

राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू को लिखे अपने पत्र में उन्होंने सरकार से मई-जून में दो हफ्ते का संसद सत्र बुलाने के लिए राजी करने का अनुरोध किया है

FP Staff Updated On: Apr 07, 2018 02:32 PM IST

0
जयराम रमेश ने RS सभापति को लिखा पत्र, 2 हफ्ते का विशेष सत्र बुलाने की मांग

संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण हंगामे और शोरगुल की वजह से बर्बाद होकर बीते शुक्रवार को समाप्त हो गया. 23 दिन के इस सत्र के दौरान दोनों सदनों में कामकाज सुचारू ढंग से नहीं चल सका.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने इसे देखते हुए मई और जून महीने में संसद का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है. उन्होंने राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू को पत्र लिखकर सरकार से दो हफ्ते का संसद सत्र बुलाने के लिए राजी करने का अनुरोध किया है.

जयराम ने अपने पत्र में लिखा, 'सरकार अहम मुद्दों पर चर्चा और बिल पास करने के लिए मई-जून महीने में दो हफ्ते का विशेष सत्र बुलाए. मैं निश्चित तौर पर कह सकता हूं कि बजट सत्र के दूसरे सत्र के हंगामे की भेंट चढ़ जाने से सभी सांसदों को पीड़ा हुई होगी.'

उन्होंने यह भी लिखा कि, मैं पक्के तौर पर विश्वास के साथ कह सकता हूं कि सभी राजनीतिक पार्टियों के सांसद चाहते होंगे कि ऐसा आगे कभी न हो.

इसपर बीजेपी ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जब उन्होंने (कांग्रेस और विपक्षी पार्टियां) हंगामा खड़ा कर बजट सत्र में कामकाज को बाधित किया तो वो कैसे इसकी मांग कर रहे हैं. बीजेपी नेता विजय गोयल ने कहा, 'क्या कांग्रेस के सदस्यों की मंशा दोबारा सैलरी और सुविधाएं हासिल करना है?'

5 मार्च से शुरू होकर 6 अप्रैल तक चले बजट सत्र के दूसरे चरण में संसद के लगातार ठप रहने से लोकसभा में सिर्फ 5 ही बिल पास हो सके, जिनमें वित्त विधेयक भी शामिल है. लोकसभा में इस दौरान तकरीबन 28 विधेयक पेश किए जाने थे. वहीं राज्यसभा में 39 विधेयक पेश होना था लेकिन सिर्फ एक ग्रेच्युटी भुगतान संशोधन विधेयक 2017 ही पारित हो सका.

कामकाज के लिहाज से यह सत्र बीते 10 साल का संसद का सबसे हंगामेदार और शोर-शराबा भरा सत्र रहा. लोकसभा और राज्यसभा को मिलाकर कुल 250 घंटे विपक्षी पार्टियों के विरोध-प्रदर्शन की भेंट चढ़ गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi