S M L

राहुल गांधी का मिडनाइट कैंडल मार्च: महिलाओं की सुरक्षा राजनीतिक नहीं, राष्ट्रीय मामला

यह मार्च ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी (AICC) के हेडक्वार्टर और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी (DPCC) के ऑफिस से रात 11 बजे शुरू होगी. यहां से शुरू होकर कैंडल मार्च रात 12 बजे तक इंडिया गेट पहुंचेगा. पार्टी के कार्यकर्ताओं को कांग्रेस के ऑफिस में जुटने का निर्देश दिया गया है

FP Staff | April 13, 2018, 01:04 AM IST

0

हाइलाइट

Apr 13, 2018

  • 01:06(IST)

  • 00:56(IST)

  • 00:55(IST)
  • 00:51(IST)

  • 00:51(IST)

  • 00:46(IST)

    राहुल गांधी-आज हिंदुस्तान की महिलाओं को डर लगता है. हिंदुस्तान की महिला सड़क पर उतर कर अपनी जिंदगी शांति से जी सके, ऐसा कुछ कीजिए. यह राष्ट्रीय मामला है राजनीतिक मामला नहीं है. यहां हर पार्टी के लोग आए हैं. 

  • 00:41(IST)

    राहुल गांधी दूसरे कई नेताओं के साथ जमीन पर बैठ गए हैं. कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ को मैनेज करने में पुलिस को काफी दिक्कत हो रही है. 

  • 00:39(IST)
  • 00:37(IST)

    कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ के कारण प्रियंका के साथ काफी धक्का मुक्की हुई 

  • 00:34(IST)

    राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा के साथ उनकी बेटी भी मार्च में शामिल हुई हैं. कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ के कारण प्रियंका गांधी और उनकी बेटी को काफी धक्कामुक्की का सामना करना पड़ा. भीड़ की वजह से प्रियंका गांधी को बैरीकेड के ऊपर से जाना पड़ा.

  • 00:09(IST)राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी कैंडल मार्च के लिए पहुंच चुके हैं.
  • 00:09(IST)राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी कैंडल मार्च के लिए पहुंच चुके हैं.
  • 00:07(IST)

    दिल्ली पुलिस का कहना है कि इस मार्च के लिए कांग्रेस ने अनुमति नहीं ली थी. कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दिल्ली पुलिस ने रोक रखा है. थोड़ी देर में राहुल गांधी भी पहुंचने वाले हैं

  • 23:56(IST)

  • 23:56(IST)

  • 23:53(IST)यह कैंडल मार्च मोदी सरकार के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए किया जा रहा है. प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि इसके जरिए लोगों में जागरूकता फैलाने की कोशिश की जा रही है कि अन्याय के खिलाफ सरकार किस तरह चुप है
  • 23:52(IST)यह कैंडल मार्च मोदी सरकार के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए किया जा रहा है. प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि इसके जरिए लोगों में जागरूकता फैलाने की कोशिश की जा रही है कि अन्याय के खिलाफ सरकार किस तरह चुप है
  • 23:52(IST)यह कैंडल मार्च मोदी सरकार के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए किया जा रहा है. प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि इसके जरिए लोगों में जागरूकता फैलाने की कोशिश की जा रही है कि अन्याय के खिलाफ सरकार किस तरह चुप है
  • 23:52(IST)यह कैंडल मार्च मोदी सरकार के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए किया जा रहा है. प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि इसके जरिए लोगों में जागरूकता फैलाने की कोशिश की जा रही है कि अन्याय के खिलाफ सरकार किस तरह चुप है
  • 23:45(IST)

  • 23:45(IST)

  • 23:43(IST)

  • 23:38(IST)

  • 23:37(IST)

  • 23:33(IST)

  • 23:32(IST)

  • 23:31(IST)इंडिया गेट की तरफ मार्च शुरू हो गया है. कांग्रेस के दिग्गज नेता पहुंच गए हैं लेकिन राहुल गांधी नहीं हैं.
  • 23:31(IST)इंडिया गेट की तरफ मार्च शुरू हो गया है. कांग्रेस के दिग्गज नेता पहुंच गए हैं लेकिन राहुल गांधी नहीं हैं.
  • 23:27(IST)राहुल गांधी की गैर मौजूदगी में पार्टी कार्यकर्ताओं ने इंडिया गेट की तरफ कूच किया
  • 23:24(IST)

    कांग्रेस दफ्तर का मेन गेट भारी भीड़ की वजह से बंद कर दिया गया.  मार्च शुरू होने का वक्त 11.15 बताया गया था लेकिन अभी वहां राहुल गांधी नहीं पहुंच पाए हैं. 

राहुल गांधी का मिडनाइट कैंडल मार्च: महिलाओं की सुरक्षा राजनीतिक नहीं, राष्ट्रीय मामला

कठुआ में रेप और मर्डर और उन्नाव में रेप के मुद्दे पर राहुल गांधी आज आधी रात को इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकालने वाले हैं. इस बात की जानकारी राहुल गांधी ने ट्वीट करके दिया. उन्होंने लोगों का इंडिया गेट पर शांतिपूर्ण कैंडल लाइट मार्च के लिए आह्वान किया है. इस मार्च में अजय माकन सहित कांग्रेस के कई बड़े नेता शामिल होंगे.

इससे पहले राहुल गांधी ने कहा था कि जम्मू कश्मीर के कठुआ में आठ साल की एक बच्ची से बलात्कार और उसकी हत्या की घटना को आज ‘अकल्पनीय नृशंसता’ बताया. साथ ही, उन्होंने हैरानगी जताई कि कोई भी व्यक्ति दोषियों को बचाने की मांग कैसे कर सकता है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘उन्हें ( अपराधियों को ) सजा दिए बिना नहीं छोड़ना चाहिए.’ राहुल ने इस अपराध को लेकर की जा रही राजनीति की भी आलोचना की. उन्होंने कहा, ‘इस तरह का पाप करने वाले दोषियों का कोई कैसे संरक्षण कर सकता है.’ उन्होंने कहा कि किसी बच्चे के खिलाफ हिंसा मानवता के खिलाफ अपराध है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi