S M L

मोदी-शाह ED और IT विभाग को 'डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट' के तौर पर इस्तेमाल करते हैं: कांग्रेस

रॉबर्ट वाड्रा की कंपनियों के जमीन सौदों को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के आरोपों पर कांग्रेस ने पलटवार किया है

Updated On: Nov 30, 2018 05:14 PM IST

Bhasha

0
मोदी-शाह ED और IT विभाग को 'डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट' के तौर पर इस्तेमाल करते हैं: कांग्रेस

यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा की कंपनियों के जमीन सौदों को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के आरोपों पर कांग्रेस ने पलटवार किया है.

कांग्रेस ने शुक्रवार को इस खबर को ही झूठी व फर्जी बताया और आरोप लगाया कि शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और आयकर विभाग का इस्तेमाल पार्टी के 'डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट' के रूप में करते हैं.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘इस प्रकार की ऊलजुलूल, बेबुनियाद, षड्यंत्रकारी और भटकाने वाली खबरों से न राजस्थान भटकेगा और न ही देश.’

बता दें कि इस बारे में एक प्रमुख अखबार में खबर प्रकाशित हुई है. शाह ने कुचामन सिटी में एक सभा में इसी खबर के हवाले से आरोप लगाया कि नेहरू-गांधी परिवार के दामाद की कंपनियों ने कमीशन के पैसे से बीकानेर के पास 150 हेक्टेयर जमीन खरीदी और करोड़ों रुपए बनाए.

शाह ने कहा, ‘मैं कांग्रेस अध्यक्ष को पूछना चाहता हूं कि आप इस खबर पर जवाब देना चाहेंगे या नहीं.’ जब सुरजेवाला से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘अमित शाह और नरेंद्र मोदी ईडी और आयकर विभाग को बीजेपी के ‘डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट’ के तौर पर इस्तेमाल करते हैं. हार का सामना कर रही बीजेपी ईडी और आयकर विभाग का दुरुपयोग कर कई बार इस तरह की खबरें बीते पांच साल में चलवा चुकी है.’

सुरजेवाला ने कहा, ‘लेकिन क्या कोई दोष निकला? सच्चाई यह है कि उनका पूरा प्रपंच और षड्यंत्र झूठ पर आधारित है. एक मुख्य समाचार पत्र के पन्नों का दुरुपयोग कर जिस प्रकार चुनाव के मौके पर वह ध्यान भटका रहे हैं उसमें वह कामयाब नहीं होंगे.'

सूरजेवाला ने शाह पर पलटवार करते हुए कहा, ‘मोदी, शाह, वसुंधरा राजे, योगी आदित्यनाथ और बीजेपी पहले तो इंसान को जाति, धर्म, वर्ण व क्षेत्र में बांटते थे, अब तो उन्होंने भगवान को भी माफ नहीं किया. अब तो उन्हें भी जाति, धर्म, वर्ण व क्षेत्र में बांट डाला ... जब उनको लगा कि भगवान का विभाजन खत्म हो गया तो ईडी और आयकर विभाग को भगवान मान लिया.’

कांग्रेस नेता ने कहा कि अगर सरकार को इस सारे प्रकरण में आयकर विभाग के फैसले पर आपत्ति थी तो वह बीते पांच साल से सत्ता में रहते हुए क्या कर रही थी.

बता दें कि इंडियन एक्सप्रेस ने खबर दी थी कि प्रियंका गांधी के पति और कारोबारी रॉबर्ट वाड्रा की जमीन खरीदने के लिए लोन देने वाली कंपनी को टैक्स पैनल से बड़े पैमाने पर छूट मिली है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) राजस्थान के बीकानेर में विवादित जमीन के सौदों के कई मामलों की जांच कर रहा था. इसी में वाड्रा की संपत्ति भी शामिल थी. अब ईडी ने इनकम टैक्स सेटलमेंट कमीशन से भूषण पावर एंड स्टील लिमिटेड (बीपीएसएल) से जुड़ी कार्यवाही का ब्योरा मांगा है, बीपीएसएल ही वह कंपनी है जिसने वाड्रा की जमीन खरीदने वाली कंपनी को लोन दिया है. इस कंपनी ने तय कीमत से सात गुना ज्यादा पर जमीन खरीदी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi