S M L

आधे-अधूरे KMP का उद्घाटन कर हज़ारों लोगों की जान जोखिम में क्यों डाल रही है सरकार: कांग्रेस

कांग्रेस का दावा है कि पीएम मोदी और हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर ने राज्य में ‘आधे-अधूरे’ एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया है, जिससे लोगों की जान जोखिम में पड़ सकती है

Updated On: Nov 19, 2018 05:08 PM IST

FP Staff

0
आधे-अधूरे KMP का उद्घाटन कर हज़ारों लोगों की जान जोखिम में क्यों डाल रही है सरकार: कांग्रेस

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को दिल्ली एनसीआर के लोगों को दो बड़ी सौगातें दी. एक तरफ जहां उन्होंने केएमपी एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया तो वहीं बल्लभगढ़ मेट्रो को भी हरी झंड़ी दिखाई. लेकिन अब विपक्ष ने केएमपी एक्सप्रेसवे के उद्घाटन को लेकर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है.

कांग्रेस का दावा है कि पीएम मोदी और हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर ने राज्य में ‘आधे-अधूरे’ एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया है, जिससे लोगों की जान जोखिम में पड़ सकती है.

हजारों लोगों की जान जोखिम में डालने का आरोप

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘मोदी जी और खट्टर साहब, आधे अधूरे केएमपी का उद्घाटन कर हज़ारों लोगों की जान जोखिम में क्यों डालने जा रहे हैं? कंसल्टेंट और एचएसआईडीसी का कंपलीशन सर्टिफिकेट कहां है? इंजीनियर की जांच के बगैर इसे आंशिक व्यावसायिक शुरुआत कैसे मान सकते हैं?’

उन्होंने पूछा कि, क्या हाइवे बनाने वाली प्राइवेट कंपनी को 26 करोड़ रुपए प्रति महीने का फायदा पहुंचाने के लिए केएमपी परियोजना का उद्घाटन किया गया है?सुरजेवाला ने कहा कि प्रधानमंत्री को इस परियोजना में ‘गड़बड़झाले’ की तुरंत जांच करानी चाहिए.

15 में पूरा हुआ एक्सप्रेसवे का काम

सोमवार से शुरू हुए वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे को पूरा करने में 15 साल का लग गया. दरअसल इस परियोजना को 2009 तक पूरा करने का लक्ष्य तय किया गया था लेकिन तब से कई बार इसकी डेड लाइन को आगे बढ़ाया गया, जिसके बाद इसको पूरा होने में 15 साल का समय लग गया. हालांकि उम्मीद जताई जा रही है कि एक्सप्रेस वे के एक बार खुलने के बाद दिल्ली में प्रवेश करने वाले ट्रकों की संख्या में कम होगी जिससे शहर के प्रदूषण के स्तर में कमी आएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi