S M L

कोका-कोला के फाउंडर 'शिकंजी' बेचते थे और मैकडोनाल्ड वाले ढाबा चलाते थे: राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि इस सरकार में ओबीसी, दलित और गरीब लोगों की कोई सुनवाई नहीं है, बल्कि इस सरकार में 20-25 उद्योगपतियों की चलती है

Updated On: Jun 11, 2018 06:29 PM IST

FP Staff

0
कोका-कोला के फाउंडर 'शिकंजी' बेचते थे और मैकडोनाल्ड वाले ढाबा चलाते थे: राहुल

राहुल गांधी ने सोमवार को नई दिल्ली में कांग्रेस पार्टी के ओबीसी सम्मेलन में कहा कि जिस व्यक्ति ने कोका कोला कोल्ड ड्रिंक ब्रांड की स्थापना की है, वो पहले अमेरिका में 'शिकंजी' बेचा करता था. राहुल ने यह भी कहा कि मैकडोनाल्ड रेस्टोरेंट के संस्थापक भी पहले अमेरिका में 'ढाबा' चलाया करते थे. यह सम्मेलन दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित हुआ.

कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा कि कांग्रेस में अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों को उचित हिस्सेदारी दी जाएगी.

उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान में ऐसी स्थिति बना दी गई है कि जो काम करता है वो पीछे रहता है. काम कोई करता है और फायदा किसी और को होता है. जो हुनरमंद है और जो खून-पसीना बहाता है उसे सम्मान नहीं मिलता है.

उन्होंने आरोप लगाया कि किसानों को प्रधानमंत्री ने एक रुपया नहीं दिया. 15 उद्योगपतियों का कर्जा माफ किया. किसान आत्महत्या कर रहे हैं. लेकिन उनके कर्ज माफ नहीं किए जा रहे हैं.

उन्होंने कहा, 'मोदी जी कहते हैं कि युवाओं को कौशल सिखाना है, लेकिन सच्चाई है कि देश मे हुनर की कोई कमी नहीं है. ओबीसी के पास हुनर की कोई कमी नहीं है. बस उनके हुनर को सम्मान नहीं मिल रहा है.' उन्होंने कहा कि बीजेपी में ओबीसी की बात नहीं सुनी जाती है, लेकिन कांग्रेस में सबको सम्मान दिया जाता है.

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि आरएसएस के लोग देश को बांटने में लगे हैं. वे ओबीसी को बांटने में लगे हैं.

हिंदुस्तान बीजेपी और आरएसएस का गुलाम बन गया है

उन्होंने दावा किया कि 'हिंदुस्तान बीजेपी के दो-तीन नेताओं और आरएसएस का गुलाम बन गया है.' गांधी ने कहा कि पूरा विपक्ष मिलेगा और मोदी जी, अमित शाह और मोहन भागवत जी को समझ आ जाएगा कि भारत को दो-तीन लोग नहीं चला सकते हैं.

ओबीसी को कांग्रेस में उचित हिस्सेदारी का वादा करते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'हम आपको राजनीति में जगह देना चाहते हैं....कांग्रेस में ओबीसी को उनका अधिकार देंगे. जहां भी जरूरत होगी वहां आपके साथ खड़े रहेंगे. लोकसभा, राज्यसभा और विधानसभाओं में आपको मौका दिया जाएगा.' उन्होंने कहा कि 50-60 फीसदी आबादी को मौका दिए बिना देश को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि इस सरकार में ओबीसी, दलित और गरीब लोगों की कोई सुनवाई नहीं है, बल्कि इस सरकार में 20-25 लोगों (उद्योगपतियों) की चलती है.

(भाषा से इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi