विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

#RisingUP में बोले योगी: भारत के मुसलमान किसी बाबर या औरंगजेब के वंशज नहीं

15 वर्षों में विकास और सुशासन यूपी की जनता भूल चुकी थी

FP Staff Updated On: May 24, 2017 08:47 AM IST

0
#RisingUP में बोले योगी: भारत के मुसलमान किसी बाबर या औरंगजेब के वंशज नहीं

नेटवर्क 18 के खास कार्यक्रम राइजिंग यूपी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश से अपराधियों का पूरी तरह सफाया कर दिया जाएगा. लखनऊ में 'नए उद्देश्य, बढ़ता प्रदेश' की थीम पर आधारित राइज़िंग यूपी कार्यक्रम में योगी ने तीन तलाक से लेकर राम मंदिर, सहारनपुर तक पर खुलकर अपने विचार रखे.

नेटवर्क18 के एग्जीक्यूटिव एडिटर भूपेंद्र चौबे के सवालों का मुख्यमंत्री ने खुलकर जवाब दिया. यूपी में कानून व्यवस्था के सवाल पर उन्होंने कहा कि अपराध करना जिनकी प्रवृत्ति बन गई थी, उन्हें अब या तो अपराध छोड़ना पड़ेगा या प्रदेश छोड़ना पड़ेगा.

तीन तलाक पर योगी ने कहा कि यह एक कुप्रथा है, इस पर रोक लगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि भारत का मुसलमान भारत के ही वंशज हैं. उनको अपनी वंशावली किसी बाबर, किसी औरंगजेब या तैमूर लंग के ऊपर नहीं देखनी चाहिए. वे भारत में ही पैदा हुए हैं, और भारत में ही बढ़े हैं.

किसानों पर उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने किसानों को राहत देने के लिए कई प्रयास किए. किसानों को उपज का उचित दाम मिल रहा. अब तक प्रदेश सरकार 22 हजार करोड़ रुपये गन्ना किसानों को दे चुकी है.सरकार के कामकाज के सवाल पर उन्होंने कहा कि हर मंत्रालय को 100 दिन का लक्ष्य दिया गया है. हम 100 दिन के कामकाज के साथ जनता के सामने आएंगे.

फोटो साभार-न्यूज 18

फोटो साभार-न्यूज 18

यूपी में बिजली के हाल पर उन्होंने कहा कि पहले यूपी के 5 जिलों में ही बिजली की सप्लाई होती थी, बाकी राज्यों में बिजली गायब रहती थी. हमने बिजली में ये वीआईपी कल्चर बंद किया है. प्रदेश में 20 नए कृषि विज्ञान केंद्र बनाने की प्रक्रिया जारी है. इसके लिए भूमि आवंटन किया जा रहा है.

यूपी में बढ़ते अपराध पर उन्होंने कहा कि 15 वर्षों का कूड़ा-कचरा साफ करने में थोड़ा वक्त तो लगेगा. 15 वर्षों में विकास और सुशासन यूपी की जनता भूल चुकी थी. अब फिर से कानून का राज कायम होगा. प्रदेश की जनता की अपेक्षाओं और आकांक्षाओं की पूर्ति करना यूपी सरकार का उद्देश्य है, हम उसके लिए प्रतिबद्ध हैं.

राइजिंग यूपी में योगी ने कहा कि इंसेफेलाइटिस से मरने वाले अधिकतर बच्चे दलित और अल्पसंख्यक समुदाय से हैं. अखिलेश जी या मायावती जी इस पर नहीं बोलेंगी क्योंकि ये वोट बैंक नहीं हैं.

योगी ने कहा कि इंसेफेलाइटिस बीमारी 1977-78 से पूर्वी उत्तर प्रदेश में आई. मीडिया ने 1998 तक इसे कभी कवर नहीं किया. सांसद बनने पर मैंने संसद में बोलने के लिए नोटिस दिया था. मैंने जिद करके कहा था कि मैं इस पर बोलूंगा. प्रमोद महाजन जी की पहल पर मुझे बोलने का मौका मिला. मैंने जब जापानी इंसेफेलाइटिस का नाम लिया तो कई सांसद हंसने लगे. तब मैंने पहली बार इस बीमारी के बारे में संसद में बोला था.

यूपी में विपक्ष के सवाल पर उन्होंने कहा कि मायावती जी को प्रदेश की जनता जवाब दे चुकी है. पिछले दो चुनावों में जनता ने उन्हें आईना दिखा दिया है. सहारनपुर में आज कोई घटना नहीं हुई है. प्रदेश में जातीय और सांप्रदायिक झगड़ा हम किसी भी कीमत पर नहीं होने देंगे. प्रदेश में अब विपक्ष नाम की कोई चीज नहीं बची है, समाजवादी पार्टी अब परिवारवादी पार्टी बन गई है.

राम मंदिर मुद्दे पर उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों को मिलकर रास्ता निकालना चाहिए. संवैधानिक दायरे में रहकर राम मंदिर का मार्ग प्रशस्त करेंगे.

केंद्र ने तीन वर्षों में जो कुछ दिया है. हम अब उन योजनाओं को प्रदेश में लागू करने जा रहे हैं. सीएम बनने से पहले और बाद के जीवन में बदलाव के सवाल पर योगी ने कहा कि मुख्यमंत्री बनने से मेरी दिनचर्या में कोई परिवर्तन नहीं आया है. पहले भी मैं 16 से 18 घंटे काम करता था. अब थोड़ा और काम कर रहा.

( साभार: न्यूज 18 )

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi