S M L

प्रधानमंत्री मोदी की उपलब्धियों पर होगा 2019 का लोकसभा चुनाव: योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी ने कहा कि 2019 का लोकसभा चुनाव प्रधानमंत्री मोदी की उपलब्धियों पर होगा, जिसमें राष्ट्रीय मुद्दे हावी रहेंगे

Updated On: Sep 01, 2018 05:02 PM IST

Bhasha

0
प्रधानमंत्री मोदी की उपलब्धियों पर होगा 2019 का लोकसभा चुनाव: योगी आदित्यनाथ

2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी की तरफ से किन मुद्दों को सामने रखा जाएगा, यह काफी हद तक अब साफ होता नजर आ रहा है. इसको लेकर अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अपना बयान दे दिया है. सीएम योगी का कहना है कि 2019 का लोकसभा चुनाव प्रधानमंत्री मोदी की उपलब्धियों पर होगा, जिसमें राष्ट्रीय मुद्दे हावी रहेंगे. इसके अलावा सीएम योगी ने कई मुद्दों पर अपनी बात रखी.

योगी ने हिंदुस्तान अखबार के जरिए आयोजित ‘हिंदुस्तान शिखर समागम’ कार्यक्रम में अयोध्या में राम मंदिर पर भी अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि जो काम होना है वह होकर ही रहेगा उसे कोई टाल नहीं सकता है, नियति ने जो तय किया है वह होकर रहेगा. इंसान को आशावादी बनना चाहिए. प्रभु राम का काम है और उसकी तारीख भगवान राम ही तय करेंगे. साथ ही मदरसों पर बोलते हुए सीएम योगी ने कहा कि मदरसों का आधुनिकीकरण क्यों नही होना चाहिए, वहां के बच्चों को आधुनिक शिक्षा से क्यों वंचित करना चाहते है. क्यों उनको मजहबी शिक्षा तक सीमित रखना चाहते हैं. आधुनिक शिक्षा सभी को दी जानी चाहिए. इसी परिपेक्ष्य में हम लोगों ने मदरसों को भी लिया है.

इसके अलावा सपा-बसपा के गठबंधन पर भी सीएम योगी निशाना साधने से नहीं चूके. इस गठबंधन को लेकर उन्होंने कहा, 'प्रदेश में गठबंधन इसलिए हो रहा है क्योंकि वे भारतीय जनता पार्टी से भयभीत हैं, वे भारत के विकास से भयभीत हैं, राजनीतिक स्थिरता से भयभीत हैं. यह देश की पहली सरकार है जिसने सत्ता का केंद्र बिंदु गांव, किसान, मजदूर और महिलाओं को बनाया है. यह बौखलाहट है जिसमें कहा जा रहा है कि मिलकर चुनाव लड़ेंगे लेकिन नेता का नाम नहीं बता रहे हैं क्योंकि उनके पास कोई नेता ही नहीं है.'

अपनी बात को खुलकर रखते हुए सीएम योगी ने मॉब लिंचिंग पर कहा कि हिंसा किसी भी हालात में स्वीकार नहीं की जाएगी. कानून को हाथ में लेने अधिकार किसी को नहीं है. राज्य में बेरोजगारी पर सीएम का कहना है कि उत्तर प्रदेश में नौकरियों की कमी नहीं है. हमारी सरकार 1,37,000 शिक्षकों की भर्ती करेगी. पुलिस में भी डेढ़ लाख से अधिक भर्तियां होगी, इसकी प्रक्रिया जारी है. इसके अलावा राज्य में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया गया था, जिसके जरिए भी लाखों रोजगार के अवसर मिलेंगे.

वहीं सीएम योगी ने बताया कि राज्य के कर्मचारियों की 50 साल की उम्र में स्क्रीनिंग करने जा रहे हैं. जिनका काम अच्छा होगा वो बने रहेंगे और जो काम नहीं करेंगे उन्हें घर भेजा जाएगा. इसके अलावा पुलिस के आए दिन किए जा रहे एनकाउंटर्स पर सीएम का कहना है कि सभी अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं कि भी एनकाउंटर फर्जी न हो, वरना उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi