S M L

छत्तीसगढ़: भूपेश बघेल सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार, 9 मंत्रियों ने ली शपथ

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के ऐतिहासिक पुलिस ग्राउंड में भूपेश बघेल सरकार के नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया, भूपेश कैबिनेट के 9 मंत्रियों ने अपने पद की शपथ ली

Updated On: Dec 25, 2018 12:05 PM IST

FP Staff

0
छत्तीसगढ़: भूपेश बघेल सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार, 9 मंत्रियों ने ली शपथ

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने 25 दिसंबर को 9 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई. राजधानी रायपुर के पुलिस परेड मैदान में विधायक रविंद्र चौबे, मोहम्मद अकबर, कवासी लखमा, जय सिंह अग्रवाल, शिव डहरिया, महिला विधायक अनिला भेड़िया, रुद्र गुरु, प्रेमसाय सिंह टेकाम और उमेश पटेल ने मंत्री पद की शपथ ली. सभी ने हिंदी में पद और गोपनीयता की शपथ ली.

राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में जीत के बाद भूपेश बघेल ने इस महीने की 17 तारीख को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. इस दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता टीएस सिंहदेव और ताम्रध्वज साहू ने मंत्री पद की शपथ ली थी. कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया सोमवार की शाम को मंत्रियों के नाम का लिफाफा लेकर दिल्ली से रायपुर पहुंचे. इसके बाद देर रात को मंत्रियों का नाम राजभवन भेजा गया. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंत्रियों के नाम पर मुहर लगा दिया था.

सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नए मंत्रियों को लेकर कयास लगाए जा रहे थे. हालांकि बघेल ने साफ किया था कि उनके मंत्रिमंडल में वरिष्ठ और अनुभवी विधायकों को जगह दी जाएगी. यही कारण है कि पहली बार चुने गए विधायकों को इसमें जगह नहीं दी गई है.

छत्तीसगढ़ में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 90 में से 68 सीटों पर, भारतीय जनता पार्टी ने 15 सीटों पर और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन ने सात सीटों पर जीत हासिल की है.

मंत्रियों के शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनके मंत्रिमंडल के सदस्य टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू, कांग्रेस के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया, राज्यसभा सदस्य छाया वर्मा समेत कई अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

वहीं कांग्रेस के एक विधायक मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज हो गए हैं. विधायक अमितेश शुक्ला ने कहा कि मुझे पता चला है कि मेरा नाम उन लोगों में शामिल नहीं है, जिन्होंने आज मंत्री पद की शपथ ली. मेरा परिवार 3 पीढ़ियों से नेहरू-गांधी परिवार से जुड़ा हुआ है. मैंने हमेशा उनके तरफ से न्याय की उम्मीद की है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi