S M L

टीडीपी-बीजेपी का बना रहेगा साथ, चंद्रबाबू ने खींचे अपने पैर

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने टीडीपी मुखिया चंद्रबाबू नायडू को फोन कर गुजारिश की ओर थी की इस बैठक में कोई कड़ा फैसला न लें

Updated On: Feb 04, 2018 03:50 PM IST

FP Staff

0
टीडीपी-बीजेपी का बना रहेगा साथ, चंद्रबाबू ने खींचे अपने पैर

तेलगू देशम और बीजेपी के रिश्तों पर लगा ग्रहण छंट चुका है. नाराजगी के बावजूद टीडीपी के मुखिया चंद्रबाबू नायडू ने अपने पैर खींच लिए हैं. पार्टी फिलहाल बीजेपी के साथ बनी रहेगी. यह फैसला रविवार को हुए टीडीपी की हाई लेवल बैठक में हुई.

रविवार दोपहर खत्म हुई बैठक के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता और मंत्री वाईएस चौधरी ने कहा कि बजट के बाद नाराज हुई टीडीपी की संसदीय बोर्ड की बैठक खत्म हो गई है. एनडीए से अलग होने की बात नहीं कही गई है. जो भी मामला है उसे आनेवाले दिनों में मामला सुलझा लिया जाएगा.

जानकारी के मुताबिक बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने टीडीपी मुखिया चंद्रबाबू नायडू को फोन कर गुजारिश की ओर थी की इस बैठक में कोई कड़ा फैसला न लें.

इससे पहले खबर आई थी कि बीजेपी की सहयोगी पार्टी तेलुगू देशम पार्टी यानी टीडीपी बजट में आंध्र प्रदेश को फंड नहीं मिलने से नाराज है.

बीजेपी महासचिव राम माधव ने कहा था हल होगा मुद्दा 

दक्षिण भारत में बीजेपी की सबसे बड़ी सहयोगी तेलुगू देशम् पार्टी (टीडीपी) उससे नाराज चल रही थी. इसे लेकर उसके एनडीए गठबंधन से अलग होने तक की भी अटकलें लगाई जा रही थी.

बीजेपी ने अब इस मामले में पहल करते हुए विवाद सुलझाने की कोशिश की है. पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने शनिवार को कहा था कि टीडीपी की नाखुशी पर हम उनसे चर्चा करेंगे. उन्होंने कहा कि टीडीपी, बीजेपी की पुरानी सहयोगी है. हम उसे बताएंगे कि हम (बीजेपी) आंध्र प्रदेश के हितों को लेकर प्रतिबद्ध हैं.

केंद्र और राज्य में बीजेपी-टीडीपी एक साथ हैं. लोकसभा में टीडीपी के 16 सांसद हैं. वहीं आंध्र प्रदेश विधानसभा में बीजेपी के चार सांसद हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi