S M L

CBI विवाद: सुरजेवाला बोले- मोदी सरकार के मुंह पर तमाचा है सुप्रीम कोर्ट का फैसला

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने SC के फैसले पर कहा, पीएम मोदी, इतिहास आपको कभी नहीं भूलेगा

Updated On: Oct 26, 2018 02:02 PM IST

FP Staff

0
CBI विवाद: सुरजेवाला बोले- मोदी सरकार के मुंह पर तमाचा है सुप्रीम कोर्ट का फैसला
Loading...

सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा की याचिका पर सुनवाई पूरी हो गई है. सीजेआई रंजन गोगोई की अगुवाई वाली बेंच ने इस मामले पर सुनवाई की. इस बेंच में सीजेआई के अलावा जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ शामिल थे.

इस पूरे मामले पर ट्विटर पर प्रतिक्रियाओं का सिलसिला शुरू हो गया है. वहीं कांग्रेस राहुल गांधी के नेतृत्व में लगातार इस मुद्दे पर प्रदर्शन कर रही है. आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने के फैसले के खिलाफ कांग्रेस के प्रदर्शन को तेलुगु देशम पार्टी का भी साथ मिल रहा है. हैदराबाद में सीबीआई मुख्यालय के बाहर हो रहे प्रदर्शन में कांग्रेस और टीडीपी साथ-साथ हैं.

सुरजेवाला बोले- पीएम ने सीबीआई और सीवीसी की प्रतिष्ठा को कम किया

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने SC के फैसले के बाद बयान दिया है. उन्होंने कहा, 'पीएम मोदी, आपने दो प्रमुख संस्थानों, सीबीआई और सीवीसी की प्रतिष्ठा को कम किया है, इसके लिए इतिहास आपको कभी नहीं भूलेगा.'

सुरजेवाला ने कहा, 'एक 'अपवाद' में, एससी ने निर्देश दिया है कि सीवीसी द्वारा पूछताछ की निगरानी एक रिटायर्ड एससी न्यायाधीश द्वारा की जाएगी. इस विश्वास की कमी के लिए आप एकमात्र कारण हैं.'

सुरजेवाला ने पीएम पर तंज कसते हुए कहा, SC में मामला जाते ही सच सामने आ गया, सीबीआई के लिए मोदी सरकार ने जो कदम उठाया था, उस पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी एक तमाचा है. अब मोदी सरकार के इशारों पर सीवीसी काम नहीं कर सकेगा. जज एके पटनायक की निगरानी में मामले की जांच की जाएगी.'

राजनाथ बोले- कांग्रेस के पास नहीं है कोई जनहित का मुद्दा

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह का कहना है कि कांग्रेस के पास कोई जनहित का मुद्दा नहीं है इसलिए वो बिना मतलब के मुद्दों को उठा रही है. उन्होंने कहा कि हमें जांच रिपोर्ट का इंतजार करना चाहिए.

वहीं कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने आज के सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया. फ़र्स्टपोस्ट से बात करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे पार्टी के प्रवक्ता इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया को बताएंगे.

केंद्रीय कानून राज्य मंत्री बोले- जांच में सब कुछ सामने आएगा

केंद्रीय कानून राज्य मंत्री पीपी चौधरी ने कहा, 'हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं. इस मामले की 2 हफ्तों में जांच की जाएगी. जांच से सब कुछ सामने आ जाएगा.'

चौधरी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, कांग्रेस झूठ बोल रही है और जनता उस पर विश्वास नहीं करेगी. राहुल गांधी के पास अब कोई मुद्दा नहीं बचा है.'

जेडीयू नेता बोले- सीबीआई की साख पर लगा धब्बा

वहीं जेडीयू नेता और पूर्व राज्यसभा सदस्य केसी त्यागी ने कहा कि फैसले का हम स्वागत करते हैं. लेकिन सीबीआई की साख पर धब्बा जरूर लगा है.

आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि अब लोगों का सीबीआई से भरोसा उठ चुका है. वहीं नेता संजय सिंह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने केंद्र सरकार के मुंह पर तमाचा मारा है.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने ताजा विवाद पर केंद्र सरकार को नोटिस भेजते हुए कहा कि सीवीसी आलोक वर्मा के खिलाफ दो हफ्ते में जांच पूरी करे. इस मामले पर सुनवाई करते हुए सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के एक रिटायर्ड जज की देखरेख में इस मामले की जांच होगी.

सुप्रीम कोर्ट ने सीवीसी, केंद्र सरकार और सीबीआई स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना को नोटिस जारी किया है. मामले की अगली सुनवाई 12 नवंबर को होगी. सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट जबतक मामले की अगली सुनवाई नहीं कर लेता तबतक नागेश्वर राव एक भी नीतिगत फैसला नहीं लेंगे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi