विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

एनडीटीवी के प्रणय रॉय के समर्थन में उतरे केजरीवाल और ममता

सीबीआई ने सोमवार को एनडीटीवी के प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका के घर पर छापे मारे हैं

Bhasha Updated On: Jun 06, 2017 10:13 AM IST

0
एनडीटीवी के प्रणय रॉय के समर्थन में उतरे केजरीवाल और ममता

सीबीआई ने शेयरों का लेन-देन सेबी से छिपाने और एक प्राइवेट बैंक को नुकसान पहुंचाने के आरोप के चलते एनडीटीवी के प्रणय रॉय के घर पर छापा मारा. एनडीटीवी ने इस कदम को ‘पुराने झूठे आरोपों’ पर आधारित ‘बदले की कार्रवाई’ कहा है.

प्रणय रॉय के घर छापेमारी की केजरीवाल और ममता बनर्जी समेत कई विपक्षी नेताओं ने निंदा की है. विपक्षी दल भी इसे बदले की कार्रवाई बता रहे हैं.

क्या कहा विपक्ष ने?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस छापे की निंदा करते हुए ट्वीट किया है कि यह ‘स्वतंत्र और सत्ता-विरोधी आवाजों को बंद कर देने’ का प्रयास है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस छापेमारी की निंदा करते हुए ट्वीट किया है. बनर्जी ने लिखा है कि मैं डॉ. प्रणय रॉय के घर पर छापेमारी से निराश हूं. वह काफी सम्मानित व्यक्ति हैं. यह बहुत ही निराशाजनक प्रवृत्ति है.

स्वराज इंडिया के नेता और सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत भूषण ने ट्वीट करके लिखा है कि यह छापा इसलिए पड़ा है क्योंकि तीन दिन पहले एनडीटीवी की एंकर निधि राजदान ने बीजेपी के प्रवक्ता को शो से जाने को कहा था. संदेश साफ है. सरकार मीडिया को डरा रही है.

वेंकैया नायडू ने कहा राजनीति प्रेरित नहीं हैं छापे

सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने आरोपों का जबाब देते हुए कहा कि एनडीटीवी के संस्थापक प्रणय रॉय की संपत्तियों पर सीबीआई के छापे कोई राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं है और कानून अपना काम कर रहा है.

नायडू ने संवाददाताओं से कहा, ‘अगर कोई कुछ गलत करता है तो केवल इसलिए आप सरकार से चुप रहने की अपेक्षा नहीं कर सकते कि वह मीडिया से जुड़ा है.’

यह भी पढ़ें: प्रणय रॉय के घर पड़ी रेड का NDTV के शेयर पर पड़ा भारी असर

उन्होंने कहा कि अधिकारी अपनी ड्यूटी कर रहे हैं और इसमें कोई राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं है. उन्होंने यह भी कहा कि देश में मीडिया स्वतंत्र और आजाद है.

नायडू ने कहा, ‘सीबीआई को कोई सूचना मिली होगी. इसीलिए उसने कार्रवाई की.’

क्या है मामला?

सीबीआई ने आरआरपीआर होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड, प्रणय रॉय, उनकी पत्नी राधिका के साथ-साथ आईसीआईसीआई बैंक के कुछ अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार करने का मामला दर्ज किया है.

सीबीआई के सूत्रों ने बताया कि एजेंसी ने आईसीआईसीआई बैंक को कथित तौर पर 48 करोड़ रूपए का नुकसान पहुंचाने के मामले में रॉय, उनकी पत्नी राधिका और आरआरपीआर होल्डिंग्स के खिलाफ एक मामला दर्ज किया है.

आरआरपीआर होल्डिंग्स ने जनता से एनडीटीवी के 20 प्रतिशत शेयर खरीदने के लिए इंडिया बुल्स प्राइवेट लिमिटेड से कथित तौर पर 500 करोड़ रुपए का लोन लिया था.

सीबीआई का आरोप है कि आरआरपीआर होल्डिंग्स ने इंडिया बुल्स का उधार चुकाने के लिए आईसीआईसीआई बैंक से 19 प्रतिशत प्रति वर्ष की दर से 375 करोड़ रुपए का लोन लिया था.

सीबीआई ने आरोप लगाया कि एनडीटीवी के प्रमोटरों ने एनडीटीवी में अपने तमाम शेयरों को गिरवी रखकर आईसीआईसीआई से यह लोन लिया था.

सीबीआई के अनुसार, शेयर गिरवी रखे जाने की बात सेबी, स्टॉक एक्सचेंजों और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को नहीं बताई गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi