S M L

उत्तराखंड में बीएसपी का 'गेम प्लान' खेल बिगाड़ना है

पहाड़ पर बीएसपी का बढ़ता जनाधार फिलहाल खेल बिगाड़ने के गेम में जुटा हुआ है

Updated On: Feb 06, 2017 10:11 PM IST

FP Staff

0
उत्तराखंड में बीएसपी का 'गेम प्लान' खेल बिगाड़ना है

उत्तराखंड में बीएसपी ने 70 उम्मीदवारों को मैदान में उतार कर अपने इरादे साफ कर दिये हैं. पहाड़ पर बीएसपी का बढ़ता जनाधार फिलहाल खेल बिगाड़ने के गेम में जुटा हुआ है. दरअसल देवभूमि में बीएसपी दलित वोटों की संख्या बढ़ाने में जुटी हुई है. हर बार चुनाव में बीएसपी अपने वोट पर्सेंट में इजाफा करती हुई कछुआ चाल से आगे बढ़ रही है. बीएसपी की ये चाल बीजेपी और कांग्रेस के लिये खतरे की घंटी साबित हो सकती है. भले ही बीएसपी सत्ता में नहीं आए लेकिन कुछ जगहों पर कांग्रेस और बीजेपी समीकरण चौपट करने का माद्दा रखती है.

BSP Rally

उत्तराखंड में हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में बीएसपी की धमक महसूस की जा सकती है. यूपी से अलग होने के बाद उत्तराखंड में हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में विधानसभा की 9 और 7 सीटें हुआ करती थीं. लेकिन परिसीमन के बाद दोनों ही जिलों में दो-दो सीटें बढ़ गईं.  हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में बीएसपी को भारी तादाद में वोट मिलते आए हैं. इसके अलावा उत्तराखंड के दूसरे 11 जिलों में भी बीएसपी का वोट बेस कम नहीं है.

 हरिद्वार में दौड़ता है बीएसपी का हाथी

उत्तराखंड में साल 2002 में हुए पहले विधानसभा चुनाव में बीएसपी को हरिद्वार जिले की 9 में से 5 सीटें मिली थीं. जबकि दूसरे विधानसभा में हरिद्वार में 6 सीटें जीतने में कामयाब हुई थी.

लालढॉग, बहादराबाद, इकबालपुर, मंगलौर, लंढौरा,भगवानपुर जैसी सीटों पर बीएसपी का दबदबा रहा.

ऊधमसिंह नगर में भी हाथी ने मचाया ऊधम

साल 2002 के विधानसभा चुनाव में बीएसपी ने ऊधम सिंह नगर जिले की 2 सीटों पर कब्जा किया था.यही कारनामा उसने साल 2007 के विधानसभा चुनाव में भी दिखाया था. ऊधमसिंह नगर में बीएसपी के पास सितारगंज और पंतनगर-गदरपुर की सीटों पर कब्जा रहा.

साल 2012 में थम गई हाथी की चाल

परिसीमन के बाद बीएसपी की ताकत में कमी आई. ऊधमसिंह नगर और हरिद्वार में उसे तगड़ा झटका लगा और वो सिमट कर दो सीटों पर रही गई.

इस बार बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर है और बीएसपी की वजह से कई जगह त्रिकोणीय मुकाबला होना तय है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi