S M L

बहुत हुई कड़वाहट, अब फिर हाथ मिलाने का समय: बीजेपी

एक बार फिर बीजेपी और शिवसेना के बीच गठबंधन की संभावना को लेकर कयासबाजी तेज हो गई है

Updated On: Feb 23, 2017 11:38 PM IST

Bhasha

0
बहुत हुई कड़वाहट, अब फिर हाथ मिलाने का समय: बीजेपी

बीएमसी चुनावों में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है ऐसे में एक बार फिर बीजेपी और शिवसेना के बीच गठबंधन की संभावना को लेकर कयासबाजी तेज हो गई है.

बीएमसी चुनावों में शिवसेना को 84 तो बीजेपी को 82 सीट मिली हैं. बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने आज कहा कि दोनों दलों को मुंबई में हाथ मिला लेना चाहिए.

देवेंद्र फडणवीस मंत्रिमंडल में मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने कहा, ‘बहुत हुई कड़वाहट. अब यह फिर से साथ आने का समय है.’ पाटिल का बयान इस बात का संकेत है कि एक दूसरे से लड़े ये दोनों पूर्व सहयोगी खंडित जनादेश के बाद फिर से साथ आ सकते हैं.

केंद्रीय बीजेपी नेतृत्व के साथ अच्छे रिश्ते रखने वाले पाटिल ने कहा, ‘दोनों पार्टियों के हिस्सों में आई सीटों को देखते हुए क्या दोनों पार्टियों के साथ आने के अलावा कोई विकल्प बचा है? क्या वो शिवसेना कांग्रेस का समर्थन लेंगे?’

पाटिल ने कहा, ‘कांग्रेस को साथ लेने जैसी अव्यहारिक चीजों में शामिल होने के बजाए दोनों दलों को ऐसी चीज करनी चाहिए जो व्यवहारिक हो और मुंबई को चलाने के लिए साथ आना चाहिए.’

उन्होंने आगे कहा, ‘देवेंद्र फडणवीस और उद्धव ठाकरे को सत्ता की साझेदारी के बारे में फैसला करना चाहिए. दोनों अच्छे दोस्त हैं.’ पाटिल का ये बयान तब आया है जब बीजेपी प्रवक्ता माधव भंडारी ने कहा कि पार्टी अपने प्रदर्शन के कारणों का ‘आत्मविश्लेषण’ करेगी. पार्टी ने कहा कि ये उम्मीद के मुताबिक नहीं हैं.

वहीं बीजेपी नेता और राज्य के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि उनकी पार्टी 10 नगरपालिका परिषदों और 25 जिला परिषदों में विजेता बनकर उभरी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi