S M L

बीएमसी मेयर के चुनाव में बीजेपी नहीं लेगी हिस्सा, शिवसेना का रास्ता साफ

बीएमसी में शिवसेना के 84 पाषर्द चुनकर आए हैं वहीं बीजेपी दो सीट पीछे रह गई

Updated On: Mar 04, 2017 09:43 PM IST

Bhasha

0
बीएमसी मेयर के चुनाव में बीजेपी नहीं लेगी हिस्सा, शिवसेना का रास्ता साफ

मुंबई के मेयर के रूप में शिवसेना के उम्मीदवार की ताजपोशी का रास्ता साफ हो गया है. जहां महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने शनिवार को घोषणा की कि बीजेपी आठ मार्च को होने वाले मेयर पद के चुनाव में नहीं लड़ेगी.

फड़णवीस ने यह भी स्पष्ट किया कि बीजेपी के फैसले को उनकी सरकार को स्थिर बनाये रखने के लिए किया गया इसे ‘समर्पण’ नहीं माना जाना चाहिए.

उन्होंने यहां अपने सरकारी आवास पर संवाददाताओं से कहा, ‘मुंबई की जनता ने बीजेपी के लिए भरपूर मतदान किया क्योंकि उन्हें निगम प्रशासन में पारदर्शिता के हमारे एजेंडे पर भरोसा है. शिवसेना सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी वहीं हम उनसे दो सीट पीछे रहे. हम अपने दम पर मेयर बनाने के लिए संख्या नहीं पा सके.’

बीएमसी में शिवसेना के 84 पाषर्द चुनकर आए हैं वहीं बीजेपी दो सीट पीछे रह गई.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘बीजेपी उप मेयर पद के लिए भी चुनाव नहीं लड़ेगी और स्थाई, सुधार, शिक्षा समितियों और बेस्ट समिति के अध्यक्ष पद के लिए भी चुनाव नहीं लड़ेगी.'

उन्होंने कहा, ‘हमें हमारा मेयर बनाने के लिए अन्य दलों का समर्थन जरूरी था.’ फड़णवीस के मुताबिक बीजेपी के पास दो ऑपशन थे. एक तो बाहरी समर्थन लेकर मेयर बनाना, जिसका मतलब होता कि पारदर्शिता के मामले में समझौता कर लिया गया. दूसरा यह कि जनता का हम पर जताए गए विश्वास को उचित ठहराना.

Shiv Sena

बीजेपी बीएमसी में पारदर्शिता पर नजर रखेगी 

उन्होंने कहा, ‘हमने दूसरा ऑपशन चुना.’

फड़णवीस ने कहा, ‘मुंबई के मेयर के मुद्दे का मेरी सरकार की स्थिरता से कोई लेनादेना नहीं है. यह स्थिर है. शुक्रवार को शिवसेना के मंत्रियों ने कैबिनेट की बैठक में हिस्सा लिया और हम अनेक मुद्दों पर सहमत थे.’

फड़णवीस ने कहा, ‘पार्टी के 82 पाषर्द निगम प्रशासन में पारदर्शिता पर नजर रखेंगे.'

क्या बीजेपी मेयर चुनाव में शिवसेना के लिए वोट करेगी, इस सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो उनकी पार्टी शिवसेना के लिए वोट देगी.

उन्होंने कहा, ‘बीजेपी, शिवसेना के अलावा किसी अन्य पार्टी का समर्थन नहीं करेगी.’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हम विपक्ष में नहीं रहेंगे. बिना हमारी सहमति के अब नगर निगम में कोई फैसला नहीं हो सकता. हम शहर के विकास से जुड़े सभी मुद्दों पर शिवसेना का समर्थन करेंगे.’

bmc

कांग्रेस ने कहा बीजेपी ने लिया यू टर्न  

मुंबई कांग्रेस ने बीजेपी के इस फैसले पर कहा कि मुंबई के मेयर पद के चुनाव से हटने का बीजेपी का फैसला भ्रष्टाचार और पारदर्शिता के मुद्दे पर शिवसेना पर निशाना साधने के पार्टी के पहले के रख से बिल्कुल उलट है.

मुंबई कांग्रेस केअध्यक्ष संजय निरूपम ने कहा, ‘महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस का फैसला पूरी तरह बीजेपी के पहले के रुख के विपरीत है और मुख्यमंत्री ने नगर निगम में शिवसेना के भ्रष्ट प्रशासन के सामने समर्पण कर दिया है जिस पर उन्होंने निगम चुनाव के प्रचार में निशाना साधा था.’

बीएमसी चुनावों में 31 सीटें जीतने वाली कांग्रेस ने विट्ठल लोखारे को मेयर चुनाव में खड़ा किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi