S M L

समरसता 'खिचड़ी' से BJP दलित परिवारों के दिलों में बनाएगी अपनी जगह

'भीम महासंगम', 6 जनवरी को शहर के अनुसूचित जाति समुदायों की एक बैठक, 11 और 12 जनवरी को राष्ट्रीय नेताओं, निर्वाचित प्रतिनिधियों और राज्य पदाधिकारियों का दो दिवसीय सम्मेलन और 'युवा विजय संकल्प रैली' 20 जनवरी को, जब पार्टी के नेता युवाओं को संबोधित करेंगे

Updated On: Jan 06, 2019 12:48 PM IST

FP Staff

0
समरसता 'खिचड़ी' से BJP दलित परिवारों के दिलों में बनाएगी अपनी जगह

अगले कुछ दिनों के लिए दिल्ली का रामलीला मैदान भगवा गढ़ और बीजेपी का आभासी शिविर कार्यालय बनने जा रहा है. खबर है कि रविवार से शुरू होने वाले, अगले 3 सप्ताहांत (वीकेंड) में इस विशाल मैदान में तीन भव्य आयोजन होंगे.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार 'भीम महासंगम', 6 जनवरी को शहर के अनुसूचित जाति समुदायों की एक बैठक, 11 और 12 जनवरी को राष्ट्रीय नेताओं, निर्वाचित प्रतिनिधियों और राज्य पदाधिकारियों का दो दिवसीय सम्मेलन और 'युवा विजय संकल्प रैली' 20 जनवरी को, जब पार्टी के नेता युवाओं को संबोधित करेंगे.

शेफ विष्णु मनोहर 5000 किलो खिचड़ी तैयार कर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ेंगे

महासंगम एक शानदार समारोह होगा जिसमें शेफ विष्णु मनोहर एक बहुत बड़े बर्तन में 5000 किलो खिचड़ी तैयार करके अपना ही रिकॉर्ड तोड़ेंगे. मनोहर ने अक्टूबर 2018 में नागपुर में 3000 किलोग्राम की खिचड़ी बनाने की प्रतियोगिता के साथ गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज किया था. नागपुर के उस प्रतियोगिता में इस्तेमाल किए गए बड़े बर्तन को मनोहर से, बड़ी मात्रा में भोजन तैयार करने के लिए वापस ले लिया गया है और दिल्ली ले जाया गया है. गैस स्टोव एक 15 फीट x 15 फीट प्लेटफ़ॉर्म पर स्थापित किया जाएगा जो स्टेज के करीब बनाया गया है.

3 लाख एससी परिवारों से 10,000 किलो चावल और दाल एकत्र किए

दिल्ली बीजेपी के मीडिया संयोजक अशोक गोयल ने बताया- हमने खिचड़ी बनाने के लिए पिछले कुछ दिनों में लगभग 3 लाख एससी परिवारों से 10,000 किलोग्राम से अधिक चावल और दाल एकत्र किए हैं. बाकी सामग्री जैसे टमाटर, लहसुन, प्याज, नमक, आदि पार्टी द्वारा व्यवस्थित किए गए हैं. हम मैदान में खाने की जगह निर्धारित करेंगे और 1000 लोगों की एक टीम बैठक में भाग लेने वाले लोगों को खिचड़ी परोसेगी. पार्टी इस आयोजन में 25,000 से अधिक लोगों की मौजूदगी की उम्मीद कर रही है. मीडिया और आईटी सेल के प्रमुख ने कहा- यह आइडिया एससी समुदाय की सभी उपजातियों को एक छत के नीचे लाने और विविधता में एकता का संदेश देने के लिए है.

बड़ी चुनौती 11 और 12 जनवरी को होने वाला राष्ट्रीय अधिवेशन है

मोदी सरकार ने समुदाय के लिए जो काम किया है उस पर पार्टी के नेता विस्तृत रूप से चर्चा करेंगे. हालांकि, पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए बड़ी चुनौती 11 और 12 जनवरी को होने वाला राष्ट्रीय अधिवेशन है जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और विभिन्न राज्यों के शीर्ष नेता शामिल होंगे. इसमें 12000 से अधिक प्रतिनिधियों के भाग लेने की उम्मीद है. पार्टी के एक नेता ने कहा- मुख्य कार्यक्रम क्षेत्र के अलावा, जहां से शीर्ष नेता प्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे वहां पर प्रधानमंत्री, राष्ट्रीय अध्यक्ष और बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के लिए अलग लाउंज की स्थापना की जा रही है.

विजय संकल्प रैली में 80000 से अधिक युवाओं के भाग लेने की उम्मीद

दो अलग-अलग हॉल होंगे जहां राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्यों और अन्य प्रतिनिधियों को भोजन परोसा जाएगा. इसके अलावा पीएम, केंद्रीय मंत्रियों और सीएम के लिए मैदान से ही जरूरी प्रशासनिक काम निपटाने की भी व्यवस्था की जा रही है. बीजेपी ने प्रतिनिधियों की यात्रा की व्यवस्था, प्रतिनिधियों के लिए स्थानीय परिवहन और आवास की देखभाल करने, कार्य स्टेशनों और इंटरनेट कनेक्टिविटी, ध्वनि और एलईडी स्क्रीन और साथ ही साथ कार्यक्रम स्थल के आंतरिक और बाहरी सौंदर्यीकरण के लिए 24 टीमों का गठन किया है. वहीं 20 जनवरी को युवा विजय संकल्प रैली में 80000 से अधिक युवाओं के भाग लेने की उम्मीद है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi