S M L

दूसरे कार्यकाल में बचाखुचा भ्रष्टाचार भी खत्म कर देगी बीजेपी: स्वामी

स्वामी ने कहा कि बीजेपी अपने दूसरे कार्यकाल में मजबूत और ‘एकजुट’ भारत का निर्माण करेगी

Bhasha Updated On: Apr 09, 2018 03:00 PM IST

0
दूसरे कार्यकाल में बचाखुचा भ्रष्टाचार भी खत्म कर देगी बीजेपी: स्वामी

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी का दावा है कि उनकी पार्टी की 2019 के आम चुनाव में बहुमत पाने की पूरी तैयारी है और अपने दूसरे कार्यकाल में वह बचेखुचे भ्रष्टाचार को भी खत्म कर देगी.

दक्षिण एशिया बिजनेस एसोसिएशन द्वारा कोलंबिया बिजनेस स्कूल में आयोजित 14वीं एन्युअल इंडिया बिजनेस कॉन्फ्रेंस में अपने संबोधन में स्वामी ने कहा कि बीजेपी अपने दूसरे कार्यकाल में मजबूत और ‘एकजुट’ भारत का निर्माण करेगी.

स्वामी ने कहा कि 2019 में बहुमत पाने की हमारी पूरी तैयारी है. उन्होंने कहा कि हम सत्ता में तीन कारणों से आए हैं पहला, नरेंद्र मोदी की सुशासन की छवि , दूसरा भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई और तीसरा- लोगों खासकर हिंदुओं को जात-पात से ऊपर उठकर ऐसी पार्टी को वोट देने के लिए प्रेरित करना जो हिंदुओं के हितों की रक्षा करे.

हम अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं हैं के वादों के साथ करेंगे प्रचार

उन्होंने कहा कि 2019 के आम चुनाव की तैयारी में बीजेपी, ‘बीते पांच वर्ष में जिस भ्रष्टाचार को दूर नहीं कर पाए, उसका सफाया करेंगे’ और ‘मजबूत और एकजुट भारत बनाना चाहते हैं. हम अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं हैं’, इन वादों के साथ प्रचार करेगी’.

इस सम्मेलन में छात्र, शिक्षाविद, उद्यमी और अधिकारी शामिल हुए. इसमें स्वामी ने भारत के राजनीतिक और आर्थिक परिदृश्य के बारे में विस्तार से बात की.

उन्होंने यह स्वीकार किया कि बीजेपी सरकार का आर्थिक मोर्चे पर प्रदर्शन सुशासन के उस वादे से अब भी दूर है जो उसने सत्ता में आने पर वर्ष 2014 में किया था. यही नहीं, नोटबंदी और वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के कारण स्थिति और जटिल हो गई.

नोटबंदी विफल, जीएसटी एक दुःस्वप्न

स्वामी ने नोटबंदी को ‘विफल’ बताया और कहा कि जनता ने इस पर आपत्ति जाहिर नहीं की क्योंकि उन्हें ऐसा लगा कि इसके जरिए अमीर लोगों को कानून के दायरे में लाया गया.

उन्होंने कहा, ‘फिलहाल तो जीएसटी एक दु:स्वप्न है. इसका अनुपालन बहुत कम हो रहा है. यह विफल है. हमें यह स्वीकार करना होगा. कारोबारियों के बीच निश्चित रूप से यह भाव है कि यह कर आतंकवाद है और इसे सही करने की जरूरत है.’

प्रमुख बैंकों में कई करोड़ों के घोटाले के बारे में स्वामी ने कहा कि इसकी वजह नेताओं की कारोबारियों से सांठगांठ है. स्वामी ने कहा, ‘यह मूल रूप से भ्रष्टाचार का मुद्दा है. मेरे खयाल से बैंक के बाबू को पकड़ने, उसके खिलाफ मामला चलाने के बजाए हमें उच्च स्तर के लोगों को पकड़ने पर ध्यान देना चाहिए. इससे भ्रष्टाचार दूर होता जाएगा.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi