S M L

पूर्वांचल में गैस बाटलिंग यूनिट लगने से बढ़ेगा रोजगार, रूकेगा पलायन: बीजेपी

गैस प्लांट खुलने से पूर्वी यूपी, बिहार में आर्थिक बदलाव आएगा और यहां के नौजवान रोजगार के लिए पलायन नहीं करेंगे

Updated On: Sep 25, 2017 06:16 PM IST

Bhasha

0
पूर्वांचल में गैस बाटलिंग यूनिट लगने से बढ़ेगा रोजगार, रूकेगा पलायन: बीजेपी

बीजेपी ने कहा है कि पूर्वांचल में गैस बाटलिंग प्लांट, खाद कारखाना और एम्स जैसे संस्थान आने से पूर्वांचल, बिहार और सीमावर्ती नेपाल में भी पलायन रुकेगा.

सोमवार को बीजेपी के यूपी प्रवक्ता मनीष शुक्ल ने कहा, 'एलपीजी सिर्फ ईंधन नहीं सामाजिक परिवर्तन का जरिया हो सकता है. पलायन रुकने से क्षेत्र में न सिर्फ आर्थिक बदलाव आएगा बल्कि यहां के नौजवानों के शारीरिक और बौद्धिक क्षमता का सदुपयोग उनके अपने क्षेत्र के लिए भी होगा.'

शुक्ल ने केंद्र सरकार द्वारा कांडला से गोरखपुर तक गैस पाइपलाइन बनाने को एक बड़ा कदम बताया. उन्होंने कहा कि गोरखपुर में 700 करोड़ रूपए की लागत से खुलने वाले सिलेंडर बाटलिंग प्लांट से पूर्वांचल में न केवल सामाजिक और आर्थिक बदलाव आएगा, बल्कि रोजी-रोटी के लिए पूर्वांचल और बिहार से नौजवानों का पलायन भी रुकेगा.

प्रदेश के प्रवक्ता ने उज्ज्वला योजना की तारीफ करते हुए बताया कि एक मई, 2016 को बलिया से शुरू हुई उज्ज्वला योजना से करोड़ों जरूरतमंद लोगों को लाभ हुआ है. गरीब महिलाओं को धुएं से छुटकारा मिला है. उज्जवला योजना समाज में एक बड़ा बदलाव लाई, पिछले 17 महीने में तीन करोड़ कनेक्शन दिए गए हैं. इनमें से 42 फीसदी कनेक्शन वंचितों को दिए गए हैं.

उन्होंने दावा किया कि आने वाले दिनों में प्रदेश में एक भी गरीब का घर ऐसा नहीं होगा जहां केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार मिलकर स्वच्छ ईंधन ना पहुंचा दें. गैस की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए वितरको का नेटवर्क बढ़ाया जा रहा है.

शुक्ल ने कहा केंद्र और प्रदेश में बीजेपी सरकार रहने से उत्तर प्रदेश का समुचित विकास होगा. प्रदेश सरकार ने केवल छह महीने में कई कल्याणकारी योजनाओं के जरिए से जनता के लिए संकल्परत है. बीजेपी समाज के अंतिम व्यक्ति के लिए काम कर रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi