S M L

बीजेपी ने कहा- राहुल गांधी चाहते थे कि चीनी राजदूत उन्हें पारंपरिक तरीके से विदा करें

बीजेपी नेता ने दावा किया कि चीन के राजदूत ने राहुल को पारंपरिक रूप से विदा करने के लिए भारत सरकार से इजाजत मांगी थी

Updated On: Aug 31, 2018 09:10 PM IST

Bhasha

0
बीजेपी ने कहा- राहुल गांधी चाहते थे कि चीनी राजदूत उन्हें पारंपरिक तरीके से विदा करें
Loading...

बीजेपी ने शुक्रवार को दावा किया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चाहते थे कि कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए रवाना होते समय चीनी राजदूत उन्हें पारंपरिक रूप से विदा करें. साथ ही, उन पर चीनी प्रवक्ता की तरह हर जगह चीन के लिए बोलने का आरोप लगाया.

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस से जानना चाहा है कि किस नेता और अधिकारी से राहुल अपने पसंदीदा देश चीन की यात्रा के दौरान मुलाकात करेंगे. पात्रा ने राहुल की तीर्थयात्रा पर टिप्पणी नहीं की और कहा कि यह उनकी निजी यात्रा है. कैलाश मानसरोवर क्षेत्र चीन में पड़ता है.

बीजेपी नेता ने दावा किया कि चीन के राजदूत ने राहुल को पारंपरिक रूप से विदा करने के लिए भारत सरकार से इजाजत मांगी थी. लेकिन उनके पत्र का जवाब नहीं दिया गया.

पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष के चीन कनेक्शन के बारे में पूछते हुए कहा, 'आप राहुल गांधी हैं न कि चाइनीज गांधी. चीनी राजदूत एक गैर चीनी व्यक्ति को क्यों विदा करना चाहते हैं? ऐसा कोई प्रोटोकॉल नहीं है.'

राहुल पर तंज कसते हुए पात्रा बोले- ये रिश्ता क्या कहलाता है?

उन्होंने पूछा, 'ये रिश्ता क्या कहलाता है?' उन्होंने दावा किया कि राहुल विमान से नेपाल जा रहे हैं जहां से वह चीन जाएंगे. बीजेपी ने राहुल की कई टिप्पणियों का एक वीडियो क्लिप भी चलाया जिसमें उन्हें (राहुल ने) पड़ोसी देश की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए दिखाया गया है. पार्टी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष 'चीन के प्रवक्ता' की तरह कार्य कर रहे हैं.

पात्रा ने कहा कि भारत और चीन के बीच डोकलाम गतिरोध के दौरान राहुल ने चीनी परिप्रेक्ष्य को समझने के लिए चीनी राजदूत से मुलाकात की थी, जबकि उन्होंने ना ही भारत सरकार को विश्वास में लिया था और न ही भारत का दृष्टिकोण जानना चाहा था.

उन्होंने राहुल के उस दावे का भी जिक्र किया, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि चीन हर चौबीस घंटे में अपने लोगों को 50,000 नौकरियां देता है, जबकि भारत रोजाना 450 लोगों को ही रोजगार दे सका है और उन्हें कॉमिक शख्स करार दिया.

पात्रा ने कहा, 'वह हर जगह चीन के लिए बोलते हैं, जैसे कि वह चीन का प्रचार करने के लिए रखे गए हों.' बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि गांधी परिवार 2008 के ओलंपिक (बीजिंग) में चीनी सरकार का मेहमान था और चीनी राजदूत परिवार के सदस्यों को विदा करने हवाईअड्डा पर गए थे. उन्होंने पूछा कि इस देश के साथ उनका किस तरह का संबंध है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi