S M L

RSS के पदाधिकारियों के साथ लखनऊ में मंथन करेंगे योगी और अमित शाह, 9 घंटे चलेगी बैठक

इस बैठक में आरएसएस के 6 प्रांतों के पदाधिकारी हिस्सा लेंगे. इसके अलावा योगी आदित्यनाथ, दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व डॉ दिनेश शर्मा, संगठन महामंत्री सुनील बंसल समेत अन्य पदाधिकारी भी शामिल होंगे

Updated On: Oct 24, 2018 09:48 AM IST

FP Staff

0
RSS के पदाधिकारियों के साथ लखनऊ में मंथन करेंगे योगी और अमित शाह, 9 घंटे चलेगी बैठक
Loading...

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज यानी बुधवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंच रहे हैं. यहां पर वे आरएसएस और बीजेपी की एक बैठक में शामिल होंगे. 9 घंटे तक चलने वाली इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. इसमें योगी मंत्रिमंडल में फेरबदल, महागठबंधन की चुनौतियां, प्रवीण तोगड़िया की सक्रियता, लोकसभा चुनाव की तैयारी और राम मंदिर के मुद्दे पर चर्चा होने की संभावना है.

इस बैठक में आरएसएस के 6 प्रांतों के पदाधिकारी हिस्सा लेंगे. इसके अलावा योगी आदित्यनाथ, दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व डॉ दिनेश शर्मा, संगठन महामंत्री सुनील बंसल समेत अन्य पदाधिकारी भी शामिल होंगे. लोकसभा चुनाव से पहले हो रही इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. भले ही यह उत्तर प्रदेश की समन्वय बैठक हो लेकिन इसके नतीजे राष्ट्रीय राजनीति को भी प्रभावित करने वाले होंगे.

संघ परिवार के सूत्र इस मंथन बैठक को बहुत ही महत्वपूर्ण बता रहे हैं. उनका कहना है कि सत्ता और संगठन की इस समन्वय बैठक में कई महत्वपूर्ण विषयों पर रणनीति बननी है. कहा जा रहा है कि बैठक में बीजेपी संगठन में कई बदलाव नजर आ सकते हैं. मंत्रिमंडल से कुछ को हटाने और कुछ को शामिल करने पर भी मुहर लग सकती है.

उत्तर प्रदेश को लेकर होगी खास चर्चा

इस समन्वय बैठक में योगी सरकार की कामकाज की समीक्षा, यूपी के सभी सांसदों के रिपोर्ट कार्ड तैयार करने को लेकर चर्चा और SC/ST एक्ट के चलते सवर्ण जातियों की नाराजगी को कैसे दूर किया जाए. इस पर मंथन किया जाएगा.

लोकसभा चुनाव से कुछ ही महीने पहले हो रही इस बैठक में उत्तर प्रदेश में 2014 के प्रदर्शन को कैसे दोहराया जाए, इस पर विशेष ध्यान दिया जाएगा. गोरखपुर, फूलपुर और कैराना उपचुनाव में मिली हार के बाद बीजेपी नई रणनीति पर काम करेगी.

केंद्र की सत्ता में दोबारा वापसी के लिए उत्तर प्रदेश बेहद महत्वपूर्ण रहने वाला है. कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों की नजर इस राज्य पर है. ऐसे में अमित शाह इस बैठक में 80 लोकसभा सीट वाले प्रदेश को हाथ ने नहीं जाने देने के लिए खास योजनाएं बनाएंगे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi