Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

25 सितंबर को होगी बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक

2019 के लोकसभा चुनाव में अभी डेढ़ साल बचा है लेकिन बीजेपी कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है

Bhasha Updated On: Sep 22, 2017 04:45 PM IST

0
25 सितंबर को होगी बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक

बीजेपी 25 सितंबर को पार्टी की विस्तारित कार्यकारिणी में अगले लोकसभा चुनाव की रणनीति का तानाबाना बुनेगी. साल 2019 के लोकसभा चुनाव में अभी डेढ़ साल बचा है लेकिन बीजेपी कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है. लिहाजा सभी सांसदों, सभी विधायकों और पार्षदों के साथ प्रदेश इकाइयों के अध्यक्षों समेत 2,000 नेताओं को इसमें शामिल होने के लिए बुलाया गया है.

बीजेपी सूत्रों ने बताया कि बैठक के दौरान राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया जाएगा जिसमें रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे को शामिल किए जाने की संभावना है. राजनीतिक प्रस्ताव तैयार करने की जिम्मेदारी राम माधव और विनय सहस्रबुद्धे को सौंपी गई है. इसके अलावा एक आर्थिक प्रस्ताव भी पेश किया जा सकता है जिसमें जीएसटी से आए आर्थिक बदलाव और नोटबंदी के कारण बदली परिस्थितियों का जिक्र हो सकता है.

उल्लेखनीय है कि रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे पर सरकार के रुख की कुछ विपक्षी दलों समेत एक वर्ग आलोचना कर रहा है. दूसरी ओर जीएसटी और नोटबंदी के मुद्दे पर भी सरकार,कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी दलों के निशाने पर है.

कार्यक्रम आयोजन के लिए दिल्ली प्रदेश में समन्वय स्थापित करने की जिम्मेदारी कैलाश विजयवर्गीय को सौंपी गई है. बीजेपी की विस्तारित राष्ट्रीय कार्यकारणी की यह बैठक दीनदयाल उपाध्याय जन्मशती समारोह के समापन के अवसर पर आयोजित की जा रही है.

पार्टी नेताओं का कहना है कि बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन खास होगा जो कुछ राज्यों में आसन्न विधानसभा चुनाव और 2019 के लोकसभा चुनाव की दिशा तय करेंगे.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी लगातार अलग-अलग राज्यों का दौरा कर पार्टी कार्यकर्ताओं में नई ऊर्जा का संचार करने का प्रयास कर रहे हैं. बीजेपी पिछले एक साल से पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष मना रही है जो पिछले साल केरल के कोझिकोड में पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के दौरान तय हुआ था.

बैठक में पार्टी के सभी 281 लोकसभा सदस्य, राज्यसभा के 57 सदस्य, 1400 विधायक और विधान पार्षद, कोर ग्रुप के सदस्य और प्रदेश इकाइयों के अध्यक्ष एवं महामंत्री शामिल होंगे. राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में आमतौर पर स्थाई और विशेष आमंत्रित सदस्यों समेत 200 से कम सदस्य हिस्सा लेते हैं. इस बार इसमें हिस्सा लेने वालों की संख्या 2,000 के आसपास होगी.

सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक के विषयों पर 24 सितंबर को पदाधिकारी मंथन करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi