S M L

2019 की तैयारी को लेकर दिल्ली में बीजेपी का मंथन, ‘अजेय भाजपा’ का नया नारा

पार्टी अध्यक्ष ने कहा है कि संकल्प की शक्ति को कोई भी हरा नहीं सकता, लिहाजा हमें संकल्प के साथ अगले चुनाव में आगे बढ़ने की जरूरत है

Updated On: Sep 08, 2018 08:55 PM IST

Amitesh Amitesh

0
2019 की तैयारी को लेकर दिल्ली में बीजेपी का मंथन, ‘अजेय भाजपा’ का नया नारा
Loading...

2019 में बीजेपी का नया नारा है अजेय भाजपा. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक से पहले पार्टी पदाधिकारियों, सभी राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों और संगठन मंत्रियों को संबोधित करते हुए पार्टी को अगले लोकसभा चुनाव में और बेहतर जीत दिलाने के मकसद से यह बात कही.

पार्टी अध्यक्ष ने कहा है कि संकल्प की शक्ति को कोई भी हरा नहीं सकता, लिहाजा हमें संकल्प के साथ अगले चुनाव में आगे बढ़ने की जरूरत है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस वक्त दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता हमारे पास हैं. लिहाजा पिछली बार की तुलना में इस बार ज्यादा सीटें आएंगी.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पार्टी कार्यकर्ताओं के भीतर उर्जा का संचार करना चाहते हैं. पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं के लिए उन्होंने लोकसभा चुनाव तक बस दो ही बातें याद रखने की नसीहत दी हैं. वो दो शब्द हैं ‘भारत माता’ और ‘कमल’. शाह के इस निर्देश और नसीहत से साफ है कि अब दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी का एकमात्र लक्ष्य 2019 का चुनाव है.

हालांकि इसके पहले मध्यप्रदेश, छत्तीगढ़, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना का चुनाव भी सामने है. इन चुनावों के प्रदर्शन का असर बीजेपी के 2019 की तैयारियों पर पड़ेगा. लिहाजा विधानसभा चुनाव को भी उतनी ही गंभीरता से पार्टी ले रही है. बीजेपी अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकारिणी को संबोधित करते हुए अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि हर हाल में हम इन सभी राज्यों में जीत कर आएंगे.

अमित शाह का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ा

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का कार्यकाल जनवरी 2019 में ही समाप्त हो रहा है. सूत्रों के मुताबिक, उनके कार्यकाल को एक साल के लिए और बढ़ाने का फैसला किया गया है. बीजेपी सूत्रों के मुताबिक, पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव और फिर लोकसभा चुनाव के मद्देनजर अगले मई-जून तक पार्टी नेताओं की व्यस्तता के चलते पार्टी संगठन के चुनाव को एक साल तक टालने का फैसला किया गया है.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi, BJP President Amit Shah, Finance Minister Arun Jaitley and BJP senior leader LK Advani during BJP National Executive Meet, in New Delhi, Saturday, Sept 8, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI9_8_2018_000096B)

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi, BJP President Amit Shah, Finance Minister Arun Jaitley and BJP senior leader LK Advani during BJP National Executive Meet, in New Delhi, Saturday, Sept 8, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI9_8_2018_000096B)

बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक के दौरान पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के अध्यक्षीय भाषण के बारे में विस्तार से बताते हुए बीजेपी नेता और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि 2019 की तैयारियों का जिक्र करते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि पहले से जिन राज्यों में बीजेपी को लोकसभा में अच्छी बढत है उसके अलावा बंगाल, ओडिशा समेत उन राज्यों में इस बार पार्टी बेहतर करेगी जहां वो नंबर दो की हैसियत में है. निर्मला सीतारमण के मुताबिक, बीजेपी अध्यक्ष ने पहले की तुलना में इस बार बेहतर प्रदर्शन की बात की.

यह भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव तक पार्टी चीफ बने रहेंगे अमित शाह, संगठन चुनाव टला

बीजेपी अध्यक्ष ने कार्यकारिणी को संबोधित करते हुए मोदी सरकार के कार्यकाल में लागू हुई सभी योजनाओं और उनके फायदे के बारे में जनता को बताने को कहा है. खासतौर से किसानों के हितों में किए गए काम जिसमें एमएसपी को लागत मूल्य के डेढ़ गुना बढाने का फैसला, पिछड़ा आयोग बनाने का फैसला, आर्थिक महाशक्ति के तौर पर दुनिया भर में भारत का स्थान बेहतर होने जैसे मुद्दों को जनता के बीच ले जाने को कहा गया है.

इसके अलावा मोदी सरकार की तरफ से शुरू की गई जनधन योजना, उज्ज्वला योजना, मुद्रा योजना, स्टार्ट अप योजना, स्टैंड अप योजना, सौभाग्य योजना समेत उन सभी योजनाओं के बारे में अब जनता के बीच जाकर बीजेपी नेता और कार्यकर्ता बताते नजर आएंगे. बीजेपी अध्यक्ष का मानना है कि इन सभी योजनाओं से किसी न किसी रूप में समाज का हर वर्ग प्रभावित हुआ है. सभी वर्गों को सरकार की इन सभी योजनाओं का लाभ हुआ है, लिहाजा सरकार की इन योजनाओं को खूब प्रचारित करने की जरूरत है.

पीएम मेक इन इंडिया और कांग्रेस ब्रेकिंग इंडिया पर काम कर रही

बीजेपी अध्यक्ष ने कार्यकारिणी की बैठक में कहा कि जनता में सरकार के खिलाफ आक्रोश नहीं है. लेकिन, कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया पर काम कर रहे हैं, जबकि कांग्रेस ब्रेकिंग इंडिया पर काम कर रही है. मॉनसून सत्र में कांग्रेस समेत विपक्षी दलों ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया था. अविश्वास प्रस्ताव पर सरकार की जीत हुई थी. अविश्वास प्रस्ताव गिर गया था. अमित शाह ने विपक्ष के इस कदम को हताशा में उठाया गया कदम बताया.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi lights a lamp as BJP President Amit Shah, Finance Minister Arun Jaitley and BJP senior leader LK Advani look on during BJP National Executive Meeting, in New Delhi, Saturday, Sept 8, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav)  (PTI9_8_2018_000131B)

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi lights a lamp as BJP President Amit Shah, Finance Minister Arun Jaitley and BJP senior leader LK Advani look on during BJP National Executive Meeting, in New Delhi, Saturday, Sept 8, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI9_8_2018_000131B)

एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को पलटने वाले कानून को पास कराने पर सरकार के खिलाफ सवर्णों ने मोर्चा खोल रखा है. सवर्णों की नाराजगी और उस पर मचे बवाल के वक्त ही बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक हो रही है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इसका ठीकरा विपक्ष के सिर फोड़ा है. शाह ने विपक्ष पर इस मुद्दे पर भ्रांति फैलाने का आरोप लगाया है.

यह भी पढ़ें- बीजेपी को राहुल गांधी से कोई डर नहीं है तो उन्हें नजरअंदाज क्यों नहीं कर देती ?

विपक्ष की तरफ से महागठबंधन बनाने और विपक्षी एकता की बात करने पर उन्होंने हमला बोला. शाह ने कहा कि महागठबंधन की सभी पार्टियों ने पिछली बार भी हमारे खिलाफ चुनाव लड़ा था, जिसमें हमने सबको हराया था. अब जबकि सभी पार्टियां एक हो कर भी आएंगी तो उन्हें हम हराएंगे.

70 फीसदी भूभाग पर हमारा शासन, आराम से नहीं बैठ सकते

कार्यकारिणी की बैठक में त्रिपुरा की बड़ी जीत और कर्नाटक में नंबर वन पार्टी बनकर उभरने का जिक्र किया गया. बीजेपी अध्यक्ष ने साफ कर दिया कि इस वक्त 19 राज्यों में हमारी सरकार है, जबकि देश में 70 फीसदी भूभाग पर हमारा शासन है. फिर भी, हम आराम से नहीं बैठ सकते. यानी मिशन 2019 के लक्ष्य और उस पर आगे बढ़ने को लेकर शाह ने फिर से पार्टी कार्यकारिणी में पार्टी का एजेंडा तय कर दिया है.

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद बीजेपी की पहली कार्यकारिणी है. ऐसे में अटल जी के पार्टी के लिए और सरकार में रहते प्रधानमंत्री के तौर पर काम को भी याद किया गया.

EDS PLS TAKE NOTE OF THIS PTI PICK OF THE DAY::::::::: New Delhi: Prime Minister Narendra Modi and BJP senior leader LK Advani during BJP National Executive Meeting, in New Delhi, Saturday, Sept 8, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI9_8_2018_000099B)(PTI9_8_2018_000141B)

EDS PLS TAKE NOTE OF THIS PTI PICK OF THE DAY::::::::: New Delhi: Prime Minister Narendra Modi and BJP senior leader LK Advani during BJP National Executive Meeting, in New Delhi, Saturday, Sept 8, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI9_8_2018_000099B)(PTI9_8_2018_000141B)

लेकिन, पार्टी का मिशन साफ है मोदी फॉर पीएम अगेन. अजेय भाजपा के नारे को आगे बढाने में लगी बीजेपी के अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकारिणी में लक्ष्य तय कर दिया है. अब सबकी नजर होगी प्रधानमंत्री मोदी के समापन भाषण की. मोदी का भाषण कार्यकारिणी के अंतिम दिन 9 सितंबर को होगा, जिसमें पार्टी की लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर रणनीति पर तस्वीर और साफ हो सकती है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi